Raigarh News: ईट से मार कर बड़े भाई की हत्या…सबूत मिटाने आरोपी ने जलाया शव…

0
17

हत्या के बाद सारंगढ़ फरार हो रहे आरोपी को बस स्टैण्ड के पास धर दबोची जूटमिल पुलिस…

थाना प्रभारी जूटमिल ने आरोपी से सारे सबूत किये गये जप्त…

आरोपी को हत्या और साक्ष्य छिपाने के अपराध में भेजा गया रिमांड पर…

रायगढ़ टॉप न्यूज 31 जनवरी। जूटमिल के सोनूमुड़ा के एक मकान अंदर मिले युवक के शव मामले का खुलासा करते हुए #जूटमिल पुलिस द्वारा हत्या के आरोपी मृतक के सगे भाई को गिरफ्तार कर आरोपी से अहम सबूतों की जप्ती कर आरोपी को न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है ।

थाना प्रभारी जूटमिल उपनिरीक्षक कमल किशोर पटेल को 29 जनवरी के सुबह सूचना मिला कि जूटमिल सोनूमुड़ा में रहने वाले रितेश चौहान के घर में एक जले हुआ व्यक्ति का शव मृत हालत में पड़ा मिला है । सूचना पर थाना प्रभारी वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराकर तत्काल हमराह स्टाफ के साथ मौके पर पहुंचे । जहां मौजूद महिला अपना नाम गीता चौहान बताई और मृतक को उसका पति जितेश चौहान (उम्र 35 वर्ष) का होना बताई । घटना को लेकर मृतक की पत्नी गीता चौहान बताई की उसका पति जितेश चौहान, चांदनी चौक स्थित दुकान में दर्जी का काम करता था । ये अपने पति और बच्चों के साथ संजय नगर में रहती है । इसका देवर रितेश चौहान और मुकेश चौहान इसके सास के साथ सोनूमुड़ा में रहते थे । हाल ही में इसकी सास का देहांत हो गया । सास के मृत्यु के बाद इसका पति जितेश अपने भाइयों का हाल-चाल लेने सोनूमुड़ा स्थित अपने भाईयों के मकान में जाता था । पति और दोनों देवर शराब पीने के आदी थे । बीच-बीच में मोहल्लेवालों से पता चला था कि शराब के नशे में तीनो भाई आपस में झगड़ा विवाद करते थे । 28 जनवरी के सुबह करीब 5:00 बजे से जितेश बिना बताए घर से कहीं निकला था । तब ये सोची की काम पर गया होगा इसलिए वो भी अपने काम पर चली गई । शाम को काम से वापस आई तो पति जितेश घर पर नहीं आया था । तब चांदनी चौक स्थित उसके दुकान में फोन कर पति के बारे में पता लगाई तो दुकान में काम करने वाले बताएं कि सुबह जितेश शराब के नशे में दुकान आया था और कल काम करने आऊंगा बोलकर चला गया । रात होन से सोनमुड़ा नहीं गई । सुबह अपने लड़के को सोनूमुड़ा स्थित देवर के घर जाकर पता लगाने बोली तो लड़का सोनूमुड़ा गया और आकर बताया कि पापा, चाचा के कमरा में जला हुआ हालत में पड़ा है । तब सोनूमुड़ा देवर के घर के पास जाकर देखी जितेश जले हालत में था, उसके कनपटी पर चोट का निशान था । मोहल्लेवाले और पुलिस को सूचना दी । जितेश का शव उसके देवर के घर में जले हालत में मिलने से उनके देवरों पर मारकर हत्या करने की शंका जताई । थाना प्रभारी जूटमिल ने अज्ञात आरोपी पर हत्या और साक्ष्य छिपाने (धारा 302, 201 आईपीसी) के तहत अपराध दर्ज कर संदेही मृतक के भाईयों का पता लगाया गया ।

संदेही मृतक के भाई रितेश उर्फ सैंडी (28 साल) को जूटमिल स्टाफ ने पतासाजी घेराबंदी कर ट्रांसपोर्टनगर बस स्टैण्ड के पास हिरासत में ली और थाना लेकर आयी। घटना के संबंध में संदेही रितेश चौहान उर्फ सैंडी से पूछ़ताछ करने पर उसने अकेले ही अपने भाई की हत्या करना बताते हुए घटना का वृतांत बताया ।

आरोपी रितेश उर्फ सैंडी पिता मोहनलाल चौहान, 28 साल भक्तीनपारा सोनूमुड़ा, थाना जूटमिल बताया कि इसका भाई मृतक जितेश चौहान की शराब पीने का आदी था । जितेश शराब पीने के लिए घर के सामानों को धीरे-धीरे बेच रहा था । 29 जनवरी की रात करीब 9:00 बजे जितेश शराब लेकर सोनमुड़ा घर में आया । दोनों मिलकर शराब पीये, इस दौरान जितेश को घर के सामानों को क्यों बेचते हो बोला । तब जितेश नाराज होकर लड़ाई झगड़ा करने लगा, भाई के शराबखोरी से परेशान होकर उससे छुटकारा पाने के मकसद से पास पड़े ईट के टुकड़े से जितेश के कनपटी के पास मारा जिससे जितेश मर गया, तब डर से आनन-फानन में भाई के लाश को पास में पड़े प्लास्टिक बोरी और पुराने कपड़ो के साथ लाइटर से जला दिया । लाश पूरा नहीं जल पाया , तब लाश को दूसरे खुला कमरे में घसीटते लाकर छोड़ दिया था और घटना समय पहने शर्ट, लाइटर को छिंपाकर तालाब के पानी में हाथ-पैर धोकर अपने पिता और छोटे भाई के पास सारंगढ़ जाने के लिए बस स्टैंड की ओर निकला था जिसे ट्रांसपोर्टनगर बस स्टैण्ड के पास पुलिस टीम हिरासत में ली । आरोपी के मेमोरेंडम पर छिपा रखा हुआ लाल रंग का शर्ट और लाइटर को जब्त किया गया है । आरोपी को कल देर शाम गिरफ्तार कर आज न्यायिक अभिरक्षा के लिए सीजीएम कोर्ट रायगढ़ पेश किया गया है । आरोपी, पतासाजी गिरफ्तारी में थाना जूटमिल/साइबर सेल प्रभारी उपनिरीक्षक कमल किशोर पटेल, प्रधान आरक्षक मो. दिलदार कुरैशी, खीरेन्द्र जलतारे, आरक्षक बनारसी सिदार, धनुर्जय चंद बेहरा, जितेन्द्र दुबे, सत्या यादव और विनय तिवारी की प्रमुख भूमिका रही है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here