Raigarh News: ओपी जिंदल विश्वविद्यालय के नवाचार प्रयासों को मिला ‘’इंडिया’ज लीडिंग यूनिवर्सिटी इन इनोवेशन’ सम्मान

0
14

नई दिल्ली में ‘दी इकोनॉमिक फॉर हेल्थ एंड एजुकेशनल ग्रोथ’ द्वारा आयोजित सम्मान समारोह में ओपीजेयू के कुलपति डॉ आर. डी. पाटीदार ने सम्मान ग्रहण किया

रायगढ़ टॉप न्यज 31 जनवरी 2023। ओपी जिंदल विश्वविद्यालय, रायगढ़ को ‘दी इकोनॉमिक फॉर हेल्थ एंड एजुकेशनल ग्रोथ’ द्वारा ‘इंडिया’ज लीडिंग यूनिवर्सिटी इन इनोवेशन अवार्ड ‘ से सम्मानित किया गया। ‘’दी इकोनॉमिक फॉर हेल्थ एंड एजुकेशनल ग्रोथ’’ द्वारा 30 जनवरी 2023 को कॉन्स्टीट्यूशन क्लब ऑफ इंडिया, विट्ठल भाई पटेल हाउस, नई दिल्ली मेंआयोजित सम्मान समारोह में देश के गणमान्य अतिथियों की उपस्थिति में ओपी जिंदल विश्वविद्यालय को ”इंडिया’ज लीडिंग यूनिवर्सिटी इन इनोवेशन अवार्ड ‘ प्रदान किया गया। समारोह में विश्वविद्यालय कीओर से यह सम्मान ओपी जिंदल विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ आर. डी. पाटीदार ने ग्रहण किया। इस समारोह में देश भर से आये विद्वानों एवं उच्च शिक्षा संस्थानों के प्रतिनिधियों ने भाग लियाI ‘दी इकोनॉमिक फॉर हेल्थ एंड एजुकेशनल ग्रोथ’ भारत में स्वास्थ्य और शिक्षा से संबंधित वैश्विक विकास की गतिविधियों के लिए कार्य कर रहा है और इसका उद्देश्य विकास गतिविधियों को बढ़ाने के सामान्य लक्ष्य के साथ लोगों और संगठनो को एक साथ लाना है।


ओपीजेयू को यह सम्मान प्रदान किये जाने पर विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ आर. डी. पाटीदार ने प्रसन्नता व्यक्त किया और ‘दी इकोनॉमिक फॉर हेल्थ एंड एजुकेशनल ग्रोथ’ के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया। डॉ पाटीदार ने कहा की ओपी जिंदल विश्वविद्यालय में ओपीजेयू इनोवेशन सेंटर की स्थापना की गयी है जिसका उद्देश्य नवोन्मेषी दिमागों का पोषण करना, नवाचारों के लिए एक जीवंत पारिस्थितिकी तंत्र को बढ़ावा देना और और युवा पीढ़ी की उद्यमशीलता की प्रवृत्ति को प्रोत्साहित करना है। इस सेंटर के माध्यम से नवाचार से जुड़े सभी लीडर्स, सरकारी एजेंसियों और नवाचारों के क्यूरेटर के बीच संबंध बनाकर, नवोन्मेषी स्टार्ट-अप को इनक्यूबेट और सपोर्ट देकर नवाचारों एवं उद्यमिता को बढ़ावा दिया जाता है और पोषित किया जाता है।दिन-प्रतिदिन अपनी शिक्षा गुणवत्ता की मिसाल पेश कर रहे ओपी जिंदल विश्वविद्यालय,रायगढ़ के नाम एक और उपलब्धिशामिल हो गई है। इस अवसर पर डॉ पाटीदार ने विश्वविद्यालय के सभी सदस्यों को सम्मान प्राप्त करने के लिए बधाई दिया और आशा व्यक्त किया की सभी सदस्यों की मेहनत, लगन और समर्पण से विश्वविद्यालय सतत नए प्रतिमान बनाता रहेगा और नित नए सम्मान प्राप्त करता रहेगा।

ओपी जिंदल विश्वविद्यालय की चांसलर श्रीमती शालू जिंदल ने इस उपलब्धि पर विश्वविद्यालय के सभी सदस्यों को बधाई दिया। प्रसन्नता व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा की शिक्षा वह प्रक्रिया है जिसके माध्यम से ज्ञान प्राप्त करना, जीविका प्राप्त करना और नए तथा समसामयिक कौशल सीखकर अपने आपको सस्टेनेबल बनाना होता है, किन्तु ओपी जिंदल विश्वविद्यालय में छात्रों को न केवल जीविका प्राप्त करने के लिए तैयार किया जाता है बल्कि इनोवेटिव माइंड डेवेलप कर, सर्वश्रेष्ठ इंडस्ट्री कनेक्ट और वैल्यू एजुकेशन के माध्यम से अच्छे लीडर, अच्छे नागरिक और अच्छे मानव बनने की भी शिक्षा दी जाती है। यहां छात्रों को इनोवेशन सेंटर के माध्यम से न केवल एक सफल उद्यमी बनने की प्रेरणा और सहयोग प्रदान किया जाता है बल्कि साथ ही साथ उनकी रचनात्मकताऔर नवाचार को भी प्रोत्साहित करने का कार्य किया जाता है। यही कारण है की यह विश्वविद्यालय अपनी उपलब्धियों के साथ नित नये प्रतिमान स्थापित कर रहा है।


यह सर्वविदित है कि रायगढ़ के पुंजिपथरा स्थित ओपी जिंदल विश्वविद्यालय की स्थापना 2014 में (राज्य बिल अधिनियम 13) देश के प्रतिष्ठित औद्योगिक समूह – जिंदल ग्रुप द्वारा देश और विदेश के छात्रों को विश्व स्तरीय शिक्षा और प्रशिक्षण प्रदान करने के उद्देश्य से की गई थी। वर्त्तमान में विश्वविद्यालय में इंजीनियरिंग (डिप्लोमा, बी.टेक., एम.टेक., एवं पीएचडी), मैनेजमेंट (बीबीए, बी कॉम-ऑनर्स, एमबीए एवं पीएचडी) एवं साइंस (बीएससी-ऑनर्स, एमएससी एवं पीएचडी) के पाठ्यक्रम संचालित हैं। विश्वविद्यालय विश्व स्तर के पाठ्यक्रम, विश्व स्तरीय शिक्षक, आधुनिक शिक्षण विधियाँ, अत्याधुनिक बुनियादी ढाँचे और शिक्षार्थियों को एक जीवंत परिसर प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है; और यह विश्वविद्यालय इस्पात प्रौद्योगिकी और प्रबंधन की विश्वस्तरीय शिक्षा प्रदान करने के लिए डेडिकेटेड रूप से कार्य कर रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here