Raigarh News: जॉब दिलाने के नाम पर ₹1549 रजिस्ट्रेशन फीस लेकर ठगी करने वाले गिरोह का एक आरोपी गिरफ्तार

0
19

आरोपियों ने बजाज कंपनी में जॉब दिलाने के नाम पर शहर की युवतियों का कराये रजिस्ट्रेशन और आफिस बंद कर भाग गये
कोतवाली पुलिस धोखाधड़ी का अपराध दर्ज कर एक आरोपी को गिरफ्तार कर भेजी रिमांड पर

रायगढ़ टॉप न्यूज 24 जनवरी। कोतवाली पुलिस द्वारा जॉब इश्तिहार के जरिए प्रति कैंडिडेट 1549 रुपए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन फीस लेकर ठगी करने वाले गिरोह के एक आरोपी सज्जाद अंसारी निवासी बाजीनपाली थाना जूटमिल को गिरफ्तार कर धोखाधड़ी के मामले में न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है । आरोपी अपने साथी प्रेम कुम्हार (छद्म नाम) वास्तविक नाम- असलम निवासी लखनऊ (उत्तर प्रदेश) के साथ मिलकर शहर के विभिन्न चौक चौराहों पर जॉब का इश्तिहार चस्पा कर बेरोजगार युवतियों को जॉब के नाम पर रजिस्ट्रेशन फीस ₹1549 लेकर बजाज कंपनी का एक जॉइनिंग लेटर देकर ठगी किया गया है । मामले की गंभीरता को देखते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अभिषेक मीना के दिशा निर्देशन एवं एडिशनल एसपी संजय महादेवा तथा सीएसपी अभिनव उपाध्याय के मार्गदर्शन पर मामले की बारीकी से जांच पतासाजी कर आरोपियों का पता लगाया गया और एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया है।

जानकारी के मुताबिक बैकुंठपुर रायगढ़ में रहने वाली अंशु यादव पिता स्वर्गीय बाल मुकुंद यादव (25 साल) द्वारा 26 नवंबर 2022 को थाना कोतवाली में लिखित आवेदन देकर धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज कराया गया था । पीड़ित युवती बताई कि माह अक्टूबर 2022 में शहर के कई जगह जॉब के पोस्टर दिवाल, खंभो में चिपके हुए थे । पॉम्प्लेट देखकर जानकारी हुआ कि नगर निगम कॉम्प्लेक्स में कंपनी के एक ऑफिस में युवतियों को आफिस रिसेस्निस्ट के जॉब की भर्ती ली जा रही है । जहां जाकर इंटरव्यु दी और सलेक्ट हो गई । ऑफिस जाकर पता किये ऑफिस में एक व्यक्ति अपना नाम प्रेम कुम्हार बताया जो स्वयं को जियो लाइफ इंडिया प्राइवेट लिमिटेड कंपनी का होना बताया और ₹1549 लेकर बजाज कंपनी का एक जॉइनिंग लेटर दिया जिसमें सैलरी ₹16,500 लिखा हुआ था । इसके साथ इसकी 4 और सहेलियां भी नौकरी शुरू कर दी । प्रेम कुम्हार ने कंपनी के असिस्टेंट मैनेजर सज्जाद अंसारी से मिलाया जो ऑफिस में आकर काम देखता था। इन्हें ट्रेनिंग में बतलाया गया था कि जॉब के नाम पर कॉलर को बजाज कंपनी के तरफ से बात करते हुए रजिस्ट्रेशन फीस 1549 रुपए लेने के ऑनलाइन स्कैनर भेजकर प्राप्त करना है । 1 महीने बाद प्रेम कुम्हार ऑफिस बंद कर भाग गया, पता चला कि वे कई लोगों से 1549 रुपए फीस लेकर ठगी किया है । जब इन्हें ठगी का पता चला कि उनके द्वारा दिया गया जॉइनिंग लेटर फर्जी है तो कोतवाली थाने में अपराध पंजीबद्ध कराये, आवेदन पर आरोपियों के विरूद्ध अप.क्रमांक 1605/2022 धारा 420, 467, 468, 471, 34 भादवि दर्ज कर विवेचना में लिया गया ।

मामले में जांच दौरान कोतवाली पुलिस द्वारा आरोपियों की पतासाजी किया जा रहा था, दोनों फरार थे । कोतवाली थाना प्रभारी निरीक्षक शनिप रात्रे द्वारा सर्विलांस और मुखबिरों की मदद से फरार आरोपी सज्जाद अंजारी के मुर्गी फार्म का व्यवसाय करना पता चला । आरोपी सज्जाद अंसारी को हिरासत में लेकर पूछताछ करने अपने साथी आरोपी प्रेम कुम्हार का असली नाम असलम अंसारी निवासी लखनऊ उत्तर प्रदेश का होना बताया तथा एक और साथी का फरमान बताया । आरोपी सज्जाद अंसारी पिता साहिद अंसारी 24 साल निवासी बाजीनपाली थाना जूटमिल, रायगढ़ को धोखाधड़ी के मामले में गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है । वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन पर थाना प्रभारी शनिप रात्रे, प्रधान आरक्षक नंदु सारथी, हेमन पात्रे एवं हमराह स्टाफ की अहम भूमिका रही है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here