Raigarh News : रायगढ़ के नये एसपी सदानंद कुमार की जीवनी… 2010 के बैच छत्तीसगढ़ कैडर के आईपीएस ऑफिसर है

0
24

उनकी पहली पदस्थापना बलौदा बाजार में SP के रूप में हुई थी…कई जिलों में बेहतर कार्य कर चुके हैं.. यहां से पहले वे नारायणपुर के एसपी थे.. आइये जानते हैं उनके बारे में

रायगढ़ टॉप न्यूज 28 जनवरी। 2010 बैच के आईपीएस अफसर सदानंद कुमार को रायगढ़ एसपी बनाया गया है। प्रदेश सरकार ने शुक्रवार को देररात कई आईपीएस अधिकारियों के प्रभार बदले हैं। कुछ जिले के एसपी बदले गए हैं। रायगढ़ एसपी अभिषेक मीणा का भी तबादला राजनांदगांव किया गया है उनके स्थान पर अब आईपीएस अफसर सदानंद कुमार को रायगढ़ जिले की जिम्मेदारी दी गई है। आइये जानते हैं उनके बारे में

सदानंद कुमार बिहार के भागलपुर जिले के निवासी हैं। वे 2010 के बैच छत्तीसगढ़ कैडर के आईपीएस ऑफिसर है। उनकी पहली पदस्थापना बलौदा बाजार में SP के रूप में हुई थी। इसके बाद वे क्रमशः नक्सल ऑपरेशन सुकमा, बलरामपुर तथा पुलिस अकैडमी चंदखुरी में पदस्थ रहे। उन्होंने अपने सफल नेतृत्व में सभी जिलों में अपराध को नियंत्रण किया।

इसके पहले भी कई जिलों में बेहतर कार्य कर चुके हैं। सदानंद कुमार इसके पहले अंबिकापुर बलरामपुर, बालोद में भी एसपी रह चुके हैं। वे जहां भी पोस्टिंग रहे शहर कम्युनिटी पुलिसिंग पर फोकस करते रहे हैं। इससे पहले वे नारायणपुर जिले के एसपी थे।

सदानंद कुमार जब चार साल के थे, तभी उनके पिता का निधन हो गया। वह छह भाई बहन थे। घर में आर्थिक परिस्थिति काफी कमजोर थी। ऐसे में बड़े भाई ने जिम्मेदारी संभाली। सदानंद कुमार को भी खेतों में मज़दूरी करने जाना पड़ता था। इस तरह रोटी भी मिली और पढ़ाई भी हुई। जब वह आठवीं क्लास में थे तब से स्टूडेंट्स को ट्यूशन पढ़ाने लगे।

सदानंद कुमार को एमए पूरा करते तक यूपीएससी के संबंध में कोई जानकारी नहीं थी। उनके भाई ने बताया कि यूपीएससी के जरिए ही आईएएस, आईपीएस बना जा सकता है। भाई ने ही उन्हे गाइड किया और मैंने दिल्ली में उनके साथ रहते हुए व कोचिंग पढ़ाते हुए खुद प्रिपरेशन शुरू कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here