Jashpur News: सगे बड़े भाईयों ने की छोटे भाई को डंडा से मारकर हत्या…पुलिस ने दोनों भाईयों किया गिरफ्तार

0
386

जशपुर। घरेलू विवाद में भाई को डंडा से मारकर हत्या करने वाले 2 सगे बड़े भाईयों को कुनकुरी पुलिस ने चंद घटों में गिरफ्तार किया है। मृतक जिला बल पुलिस में रायगढ जिला में आरक्षक के पद पर कार्य करता था।

दरअसल, प्रार्थी कोरनेलियुस टोप्पो उम्र 60 वर्ष निवासी रमसमा कजरा थाना नारायणपुर जिला जशपुर (छ.ग.) आज दिनांक 26.04.2024 को थाना कुनकुरी में रिपोर्ट दर्ज कराया कि वे लोग चार भाई है। सबसे बड़ा भाई फिरदियुस टोप्पो परिवार सहित सागर (म0प्र0) में रहता है, मेरे से छोटा संझला भाई रूबेन टोप्पो परिवार सहित रायपुर में रहता है और मेरा सबसे छोटा भाई प्रभात टोप्पो जिला बल पुलिस में रायगढ जिला में आरक्षक के पद पर कार्य करता था। हमेशा शराब पीने का आदी रहने से नौकरी ठीक से नहीं करता था जिससे करीब 3-4 साल पहले नौकरी छोडकर अपने घर हर्राडांड में आकर परिवार साथ रहता था और रोज शराब पीकर घर में अपने पत्नी व बच्चों के साथ लडाई झगडा व मारपीट करता था जिससे उसके पत्नी व बच्चे डर से उनके रिस्तेदार के घर में रात में सोने चले जाते थे। मृतक के व्यवहार से उसके परिवार के लोग काफी परेशान थे। 25 अप्रैल के प्रातः करीब 07 बजे प्रार्थी और इसकी छोटी बहु किराये के गाडी में एक रिष्तेदार के दफन कार्यक्रम में शामिल होने पत्थलगांव बीटीआई चौक के पास गये थे, वहां पर प्रार्थी का संझला भाई रुबेन टोप्पो भी रायपुर से आया था।

 

दफन-कफन करने के बाद रूबेन टोप्पो को साथ लेकर प्रार्थी लोग पत्थलगांव से अपने छोटा भाई प्रभात टोप्पो के घर हर्राडांड रात करीब 08ः30 बजे पहुंचे तो इसका बड़ा भाई फिरदियुस टोप्पो पहले से प्रभात टोप्पो के घर में आकर रुका था। हर्राडांड़ पहुंचने के लगभग 5-10 मिनट के बाद प्रार्थी का छोटा भाई प्रभात टोप्पो नशे के हालत में घर आया, उसी दौरान प्रार्थी का बड़ा भाई फिरदियुस टोप्पो और संझला भाई रुबेन टोप्पो दोनों मिलकर प्रभात टोप्पो को हमेशा दारू पीकर घर में तमाशा करते हो कहकर डांट-डपट किये, तब प्रभात टोप्पो उनसे अमर्यादित व्यवहार करते हुये मैं पुलिस वाला हूँ मेरे घर में आकर मुझे डांट रहे हो तुम दोनों को अंदर करवा दूंगा कहकर धक्का-मुक्की करने लगा जिससे विवाद बढ़ गया तो फिरदियुस टोप्पो और रूबेन टोप्पो दोनों मिलकर डंडा से प्रभात टोप्पो को उसके घर के सामने आंगन में रात करीब 9.00 बजे मारपीट करने लगे। प्रार्थी एवं उसकी छोटी बहुरिया मारपीट मत करो कहकर बीच-बचाव करने का प्रयास किये किंतु नहीं माने और डंडा से मारपीट करते रहे। डंडा से मारपीट करने के कारण शरीर में दर्द होने से रात में प्रभात टोप्पो पीड़ा से आवाज कर रहा था, बहु ने उसे तेल लगाकर मालिश की किंतु उसका दर्द ठीक नहीं हुआ और सीना व पेट में गंभीर अंदरूनी चोट लगने से रात में बेहोश हो गया।

तब प्रार्थी तथा फिरदियुस टोप्पो एवं रुबेन टोप्पो हम तीनों मिलकर मेरा छोटा भाई प्रभात टोप्पो को जिंदा है कहकर उसे रात में ही बोलेरो गाडी में होलीक्रास अस्पताल कुनकुरी लेकर आये जहां डाक्टर द्वारा चेक करने के बाद प्रभात टोप्पो को मृत बताये। फिरदियुस टोप्पो और रूबेन टोप्पो मिलकर डंडा से मारपीट कर मेरा छोटा भाई प्रभात टोप्पो की हत्या किये हैं। प्रार्थी के रिपोर्ट पर थाना कुनकुरी में नामजद अभियुक्तगण फिरदियुस टोप्पो एवं 2 रुबेन टोप्पो निवासी साकिनान रमसमा कजरा थाना नारायणपुर जिला जशपुर के विरुद्ध धारा 302, 34 भा.द.सं. पंजीबद्ध कर विवेचना क्रम में त्वरित कार्यवाही करते हुये आरोपीगणों को हिरासत में लेकर मनोवैज्ञानिक तरीके से पूछताछ करने पर अभियुक्तगणों द्वारा आक्रोश में आकर घर में रखा हुआ डंडा से हम दोनो मिलकर भाई प्रभात टोप्पो को मारपीट कर हत्या करना स्वीकार किये।

प्रकरण में अभियुक्त फिरदियुस टोप्पो का मेमोरंडम कथन लेकर उसके द्वारा पेश करने पर घटना मे प्रयुक्त एक खून लगा डंडा एवं दूसरा आरोपी रूबेन टोप्पो का मेमोरंडम कथन लेकर उसके द्वारा पेश करने पर घटना में प्रयुक्त एक खून लगा डंडा को जप्त किया गया है। प्रकरण में डंडा से पीट-पीट कर हत्या करना पाये जाने पर नामजद अभियुक्तगण 1. फिरदियुस टोप्पो उम्र 63 वर्ष सा0 रमसमा कजरा थाना नारायणपुर जिला जशपुर (छ.ग.) हा. मु.बरारू थाना कैंट जिला सागर (म.प्र.) 2. रूबेन टोप्पो उम्र 54 वर्ष सा0 रमसमा कजरा थाना नारायणपुर जिला जशपुर हा. मु. बुरियाखुर्द थाना टिकरापारा जिला रायपुर (छ.ग.) को दिनांक 26.04.2024 को विधिवत गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है।
पुलिस अधीक्षक शशि मोहन सिंह, अति. पुलिस अधीक्षक अनिल सोनी के निर्देशन एवं मार्गदर्षन में अनुविभागीय पुलिस अधिकारी कुनकुरी विनोद मंडावी, थाना प्रभारी कुनकुरी मल्लिका तिवारी एवं टीम उप.निरी. खोमराज ठाकुर, सउनि. रामजी साय पैंकरा, सउनि. मनोज कुमार साहू प्र.आर.274 त्रिनाथ यादव, आर. 680 चन्द्रशेखर बंजारे, आर. 180 अमित एक्का का मामला को सुलझाने एवं आरोपी को गिरफ्तार करने में अहम भूमिका रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here