Raigarh News: डाक अधीक्षक पर घर घुसकर हमला करने वाले तीन आरोपी गिरफ्तार…

0
22

कोतवाली पुलिस नकाबपोश अज्ञात आरोपी पर दर्ज की थी अपराध…जांच में उजागर आरोपियों का कृत्य….

षड्यंत्रकर्ता मुख्य आरोपी उप डाकपाल को तमनार में गिरफ्तार की कोतवाली पुलिस……

 डाक अधीक्षक द्वारा इंक्रीमेंट रोके जाने पर षड्यंत्र कर साथियों के साथ मिलकर दिया था घटना को अंजाम, गये जेल….

रायगढ़ टॉप न्यूज 12 जनवरी। सिटी कोतवाली पुलिस द्वारा रायगढ़ डाक अधीक्षक के घर घुसकर उन पर हमला करने वाले नकाबपोश आरोपी का पता लगाकर गिरफ्तार किया गया है । मामले में संलिप्त आरोपी के दो अन्य साथियों को भी पुलिस हिरासत में ली है । मुख्य आरोपी टेकराज सत्यम जो तमनार में उप डाकपाल के पद पर पदस्थ है, डाक अधीक्षक सरजीत सरकार द्वारा विभागीय अनियमितताओं के कारण उसका इंक्रीमेंट रोके जाने से मारपीट की साजिश रच कर अपने दो अन्य साथियों के साथ घटना को अंजाम दिया था । तीनों आरोपियों को कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है ।

डाक अधीक्षक द्वारा थाने में दर्ज करायी गई रिपोर्ट-

16 अक्टूबर को डाक अधीक्षक सरजीत सरकार (उम्र 51 वर्ष) द्वारा लिखित आवेदन देकर रिपोर्ट दर्ज कराया गया कि अपने परिवार साथ डाकघर कालोनी कोतरारोड़ में रहते हैं । बीते रात्रि करीब 02.00 बजे (16 अक्टूबर) कोई व्यक्ति घर के दरवाजा पर लगी बेल दबाया। बेल की आवाज सुनकर उठकर दरवाजा खोलने पर एक व्यक्ति मुह पर कपडा बांधे हुए था, हांथ में डण्डा रखा था जो धक्का मारकर जबरन घर के अंदर घुस गया और बिना कुछ बोले डण्डा से मारने लगा जिसकी आवाज सुनकर पत्नी मृदुला सरकार दौडकर बीच बचाव करने आयी तो उसे भी धक्का दिया और मारपीट किया । शोर मचाने पर आरोपी भाग गया । सरजीत सरकार के लिखित आवेदन पर अज्ञात आरोपी के विरूद्ध अप.क्र. 1409/2022 धारा 458, 323 IPC का अपराध दर्ज कर विवेचना में लिया गया ।

इन्वेस्टिगेशन के दौरान जांचकर्ता पुलिस अधिकारी द्वारा पीड़ित सरजीत सरकार उसकी पत्नी व गवाहों का बयान लेकर सीसीटीवी फुटेज चेक किए । रिपोर्टकर्ता है तथा गवाहों से पूछताछ करने पर अहम जानकारी निकलकर सामने आई कि डाक अधीक्षक सरजीत सरकार द्वारा टेकराज सत्यम जो तमनार में उप डाकपाल के पद पर पदस्थ है जिसे विभागीय अनियमितताओं के कारण उसका इंक्रीमेंट रोका था । जिसके बाद से टेकराज सत्यम, अधीक्षक सरजीत सरकार से रंजिश रखता था और पहले भी फोन पर उन्हें नुकसान पहुंचाने की धमकी दे चुका था । कोतवाली पुलिस घटना दिनांक को टेकराज के गतिविधियों के संबंध में तकनीकी जानकारी एकत्र की और पाई की घटना दिनांक को टेकराज रायगढ़ में देखा गया है । पुलिस अधिकारी अपनी जांच को इस ओर आगे बढ़ाई । टेकराज सत्यम के विरुद्ध और भी महत्वपूर्ण साक्ष्य प्राप्त होने पर थाना प्रभारी कोतवाली निरीक्षक शनिप रात्रे के निर्देशन पर थाने की पेट्रोलिंग टीम के साथ जांचकर्ता पुलिस अधिकारी तमनार जाकर आरोपी को दबिश देकर हिरासत में लेकर थाने लायी । संदेही टेकराज सत्यम से कड़ाई से पूछताछ करने पर टेकराज सत्यम विभागीय आदेशों से परेशान होकर अपने साथी यशपाल सिंह जांगड़े और वीरेंद्र गोंड के साथ मिलकर षडयंत्र पूर्वक घटना कार्य करना स्वीकार किया जिस पर प्रकरण में धारा 120 बी 34 IPC जोड़ा गया । आरोपी टेकराज सत्यम ने बताया कि तीनों पूरी प्लानिंग कर 16 अक्टूबर 2022 की रात्रि सरजीत सरकार के घर गए थे । मकान में टेकराज सत्यम मुंह पर कपड़ा बांधकर घुसा और सरजीत सरकार और उसकी पत्नी मृदुला सरकार से मारपीट किया था । मामले में तीनों आरोपी (1) टेकराज सत्यम पिता संपत लाल सत्यम उम्र 33 वर्ष निवासी बरतुंगा थाना सारंगढ़ जिला सारंगढ़ बिलाईगढ़ (2) वीरेंद्र गोंड पिता चंद्रदेव प्रसाद गोंड़ उम्र 48 वर्ष निवासी पटाखा गोदाम के सामने सोनिया नगर थाना कोतवाली रायगढ़ (3) यशपाल सिंह पिता नीलांबर सिंह उम्र 33 वर्ष निवासी भीकमपुरा थाना सारंगढ़ जिला सारंगढ़ बिलाईगढ़ को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है ।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अभिषेक मीना के दिशा निर्देशन एवं एडिशनल एसपी संजय महादेवा तथा नगर पुलिस अधीक्षक अभिनव उपाध्याय के महत्वपूर्ण मार्गदर्शन पर आरोपी की पतासाजी, गिरफ्तारी में थाना प्रभारी कोतवाली निरीक्षक शनिप रात्रे, जांचकर्ता प्रधान आरक्षक हेमंन पात्रे तथा पेट्रोलिंग टीम के प्रधान आरक्षक नरेंद्र यादव, दिलीप भानु तथा आरक्षक सुशील मिंज की महत्वपूर्ण भूमिका रही है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here