पत्थलगांव बीईओ सस्पेंड…लोकसभा चुनाव में कर्मचारियों की नहीं करायी थी पीपीईएस डाटा एंट्री

0
483

जशपुर। छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले के कलेक्टर डॉ रवि मित्तल ने लापरवाही को लेकर बड़ा एक्शन लिया है। जहां उन्होंने लोकसभा चुनाव में कार्यालय और स्कूलों में पदस्थ 123 कर्मचारियों का पीपीईएस सॉफ्टवेयर डाटा एंट्री ना कराये जाने पर पत्थलगांव बीईओ धनी राम भगत को सस्पेंड कर दिया है।

दरसअल, लोकसभा चुनाव में पत्थलगांव बीईओ धनीराम भगतको अपने कार्यालय और उनके कार्यालयों के समस्त कर्मचारियों को पीपीईएस सॉफ्टवेयर में डाटा एंट्री कराने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। लेकिन उन्होंने अपने कार्यालय के कर्मचारी उदे राम राठिया और भृत्य का पीपीईएस सॉफ्टवेयर में डाटा एंट्री नहीं करायी और डाटा फाईनलॉइज कर दिया गया। इतना ही नहीं उनके अंतर्गत आने वाले कार्यालय-स्कूलों में पदस्थ 123 कर्मचारियों की एंट्री नहीं करायी थी और ना ही इनके द्वारा संवीक्षा की गई। जिससे निर्वाचन जैसे महत्वपूर्ण कार्य प्रभावित हुआ। जिसको लेकर धनीराम भगत को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया और बाद में उन्हें सस्पेंड कर दिया गया।

कलेक्टर ने आदेश जारी कर किया सस्पेंड

जारी आदेश में लिखा है कि, लोकसभा निर्वाचन जैसे महत्वपूर्ण कार्य में लापरवाही एवं उदासीनता गम्भीर कदाचरण एवं अनियमितता के श्रेणी में आता है । अतः तत्काल कठोर कार्यवाही किया जाना आवश्यक है। विकासखण्ड शिक्षा अधिकारी पत्थलगांव धनी राम भगत को लोक प्रतिनिधित्व नियम, 1951 के धारा 28ए सिविल सेवा (वर्गीकरण, नियंत्रण तथा अपील) नियम 1966 के नियम 9 के तहत तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है। निलंबन अवधि में इनका मुख्यालय कार्यालय जिला शिक्षा अधिकारी जशपुर नियत किया गया है तथा निलंबन अवधि में नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता की पात्रता होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here