Raigarh News जल शक्ति अभियान: ‘नारी शक्ति से जल शक्ति’ थीम के साथ चलेगा जिले में जल संरक्षण के लिए जागरूकता अभियान

0
115

जल संरक्षण में महिलाओं की सक्रिय भूमिका को मिलेगा बढ़ावा, सभी पंचायतों में होंगे कार्यक्रम

रायगढ़, 20 जून 2024/ केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा जल संरक्षण एवं भू-जल निर्भरता कम करने हेतु जल शक्ति अभियान कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है। इस वर्ष यह अभियान ‘नारी शक्ति से जल शक्ति’ थीम के साथ चलाया जा रहा है। जिसका उद्देश्य जल संरक्षण में महिलाओं की सक्रिय भूमिका को बढ़ावा देना और उनके योगदानों को पहचान देना है। कलेक्टर श्री कार्तिकेया गोयल गोयल के निर्देश व सीईओ जिला पंचायत श्री जितेन्द्र यादव के मार्गदर्शन में रायगढ़ जिले में जल शक्ति अभियान के तहत सभी पंचायतों में कार्यक्रम आयोजित किए जाने की रूपरेखा तैयार की गई है। सिंचाई विभाग को अभियान का नोडल बनाया गया है। कार्ययोजना के सुचारू संचालन एवं विभिन्न विभागों से समन्वय स्थापित करने हेतु जल संसाधन संभाग, रायगढ़ द्वारा जल शक्ति केन्द्र, रायगढ़ की स्थापना की गई है।











जल शक्ति अभियान 2024 के लिए पंचायतों में महिलाओं के बीच जागरूकता अभियान चलाया जाएगा, साथ ही जल संचयन के लिए अधोसंरचना विकास और प्रबंधन के लिए अंतर्विभागीय समन्वय से कार्य किया जाएगा। ईई सिंचाई विभाग से प्राप्त जानकारी अनुसार जल शक्ति के लिए बनाई गई कार्ययोजना में लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा रायगढ़ जिले के सभी पंचायतों में जल शक्ति अभियान के तहत सहभागिता सुनिश्चित करने के लिए महिलाओं को पेयजल जांच संबंधी प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा। जल संरक्षण की दिशा में विशेष पहल करते हुए स्कूली बच्चों के लिए कार्यशाला आयोजित की जाएगी। जल संसाधन विभाग रायगढ़ द्वारा जल संसाधन विभाग के डेम के गाद सफाई का कार्य कराया जाएगा। जिला पंचायत द्वारा चेकडेम, बोल्डर चेक डेम, मिट्टी चेक डेम, तालाबों का निर्माण/मरम्मत कार्य एवं वाटर कंजर्वेशन हेतु ट्रेप निर्माण, कुंआ निर्माण, सोकपिट, परकोलेशन टैंक जैसे अन्य निर्माण कराया जाएगा। इसी प्रकार जंगली-जानवरों के लिए पेयजल उपलब्धता सुनिश्चित करने एवं जल संग्रहण हेतु वन विभाग द्वारा वृक्षारोपण और पानी रोकने हेतु जलीय संरचनाओं का निर्माण कराया जाएगा।

रायगढ़ में स्थापित जल शक्ति केंद्र जल संरक्षण की दिशा में जिले के जल संरक्षण तकनीकों से संबंधित सूचनाओं के प्रसार के लिए ज्ञान केंद्र होंगे और लोगों को तकनीकी मार्गदर्शन प्रदान करेंगे। साथ ही यहां से जिले के लिए तैयार कार्ययोजना की मॉनिटरिंग अंतर्विभागीय समन्वय के साथ की जायेगी।













LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here