Raigarh News: जलजनित रोगों को लेकर रहें सावधान, रोकथाम के लिए रखें पर्याप्त तैयारी- कलेक्टर कार्तिकेया गोयल…कलेक्टर ने केसीसी निर्माण में तेजी लाने के दिए निर्देश

0
98

जुलाई में चलेगा वृक्षारोपण अभियान, कलेक्टर गोयल ने विभागों से कहा तैयारी कर लें पूरी
कलेक्टर गोयल ने ली समय-सीमा की बैठक

रायगढ़, 18 जून 2024/ कलेक्टर कार्तिकेया गोयल ने आज कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में समय-सीमा की बैठक लेकर विभागीय काम-काज की समीक्षा की। उन्होंने आगामी बारिश के मौसम में जल जनित रोगों के रोकथाम को लेकर समुचित प्रबंध करने के निर्देश स्वास्थ्य विभाग को देते हुए कहा कि ऐसे इलाके जहां पिछले वर्ष उल्टी, डायरिया, पीलिया जैसी बीमारियों के मामले सामने आए थे वहां इस बार विशेष सावधानी रखी जाए। सभी स्वास्थ्य केंद्रों में मौसमी बीमारियों के उपचार के लिए दवाइयां पर्याप्त मात्रा में रखें। इसके साथ ही भराव को स्थिति न हो इसके लिए नालियों की सफाई करने के निर्देश नगर निगम आयुक्त को दिए।











कलेक्टर श्री गोयल ने बैठक में किसानों के केसीसी निर्माण की प्रगति के बारे में विस्तार से समीक्षा की। उन्होंने केसीसी निर्माण में आशानुरूप प्रगति नही होने पर गहरी नाराजगी जताई और कहा कि कृषि विभाग के साथ पशुपालन, उद्यानिकी और मछली पालन विभाग कार्ययोजना बनाते हुए केसीसी निर्माण में प्रोग्रेस लेकर आएं। अपेक्स बैंक के साथ अन्य बैंकों में लंबित आवेदनों पर तत्काल कार्यवाही करने के लिए कहा। समिति स्तर पर यदि किसानों ने आवेदन दिए हैं, तो उसे भी जल्द निराकृत करने के निर्देश उन्होंने दिए।

कलेक्टर श्री गोयल ने बैठक में स्वास्थ्य विभाग में चल रहे निर्माण कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग के अस्पताल और अन्य भवनों के निर्माण कार्य में सीजीएमएससी द्वारा देरी किए जाने पर विभाग के सब इंजीनियर पर गहरी नाराजगी जताई। उन्होंने कहा कि जहां वर्क ऑर्डर जारी कर भूमि चिन्हांकित कर ली गई है वहां तत्काल काम शुरू कराने के निर्देश दिए। उन्होंने शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों का काम बिना देरी किए शुरू करने के निर्देश दिए और कहा कि लापरवाही पर कार्यवाही होगी।

कलेक्टर गोयल ने खनिज विभाग को अवैध खनिज उत्खनन और परिवहन पर की गई कार्यवाही के बारे में पूछा। उन्होंने इस माह अब तक हुई कार्यवाही को नाकाफी बताते हुए फील्ड में निगरानी बढ़ाने के निर्देश दिए। उन्होंने जिला शिक्षाधिकारी से कहा कि शासन द्वारा स्कूलों की छुट्टियां एक हफ्ते बढ़ा दी गई हैं। अत: शाला प्रवेशोत्सव का आयोजन की तैयारियां भी नवीन तिथि के अनुसार करें। कलेक्टर श्री गोयल ने वन विभाग अंतर्गत तेंदूपत्ता खरीदी के भुगतान के बारे में जिले के दोनों वन मंडलों से जानकारी ली। उन्होंने कहा कि संग्राहकों को भुगतान समय-सीमा में हो इसका ध्यान रखें। साथ ही लीड बैंक मैनेजर को निर्देशित किया कि इस दौरान तेंदूपत्ता संग्राहकों द्वारा बैंकों से राशि आहरण किया जाएगा। अत: कैश फ्लो की दिक्कत न हो।


कलेक्टर गोयल ने बैठक में जल जीवन मिशन के कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने ब्लॉकवार नल कनेक्शन वितरण की जानकारी और उनके चालू दशा में होने के फिजिकल वेरिफिकेशन के लिए दिशा निर्देश दिए। कलेक्टर श्री गोयल ने जल शक्ति अभियान के तहत किए जा रहे कार्यों के बारे में जानकारी ली। कलेक्टर श्री गोयल ने जल शक्ति अभियान के तहत जिले में भू जल सर्वेक्षण और संचयन के लिए किए जा रहे कार्यों के बारे में जानकारी ली। सहकारी समितियों में जन औषधि केंद्र खोले जाने की प्रक्रिया के बारे में भी उन्होंने जानकारी ली। बताया गया कि स्थल चिन्हित कर अनुमति के लिए आवेदन भेज दिया गया है। अनुमति प्राप्त होने के पश्चात जन औषधि केंद्र खोलने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।
इस अवसर पर सीईओ जिला पंचायत जितेन्द्र यादव, एडीएम सुश्री संतन देवी जांगड़े, अपर कलेक्टर राजीव कुमार पाण्डेय, आयुक्त नगर निगम सुनील कुमार चंद्रवंशी सहित जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

जुलाई में चलेगा वृक्षारोपण अभियान
कलेक्टर  गोयल ने जिले में शुरू होने वाले वृक्षारोपण अभियान की तैयारियों की नर्सरी में पौधों की तैयारी, वृक्षारोपण के लिए स्थल चयन जैसे बिंदुओं के आधार पर विस्तार से समीक्षा की। गौरतलब है कि अलग-अलग तिथियों में जुलाई माह में मानसून के दौरान जिले में वृक्षारोपण अभियान चलाया जाएगा। अभियान अंतर्गत उद्योगों में भी पौधारोपण किया जायेगा।

शहरी क्षेत्रों में आयुष्मान कार्ड निर्माण में लाएं तेजी
कलेक्टर गोयल ने बैठक में पिछले एक हफ्ते के दौरान आयुष्मान कार्ड निर्माण की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने ब्लॉकवार ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में कार्ड निर्माण की संख्यात्मक जानकारी ली। धरमजयगढ़ और खरसिया में अच्छी प्रगति की सराहना की। उन्होंने कहा कि ग्रामीण इलाकों के साथ शहरी क्षेत्रों में आयुष्मान कार्ड निर्माण में तेजी लाएं। स्वास्थ्य और पंचायत विभाग एक साथ नगरीय निकायों को इसमें कार्ययोजना के साथ फील्ड में काम करने के निर्देश दिए।













LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here