सक्तीः युवक को सेल्फी लेना पड़ा भारी, हाथियों के झुंड ने दौड़ाया, घायल को अस्पताल में किया गया भर्ती… सक्ती जिले में घुसा हाथियों का दल

0
25

सक्ती। रायगढ़ सीमा से सक्ती सीमा अंतर्गत बरगढ़ होते हुए ग्राम पंचायत अमलडीहा के आश्रित ग्राम अमली टिकरा में रात्रि के समय हाथियों का एक समूह घ्ाुस गया। गुरूवार की शाम भालू डेरा गांव में वहां के युवक दुर्गेश (25) पिता महादेव को एक हाथी ने दौड़ाया और उसके कमर को कुचल दिया। इसके बाद वह वापस लौट गया। युवक को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सक्त्ाी में भर्ती कराया गया है।

बीती रात हाथियों का दल अमली टिकरा निवासी मोहन सिदार के बाड़ी में विचरण करते रहे। इसकी जानकारी मिलने पर सरपंच भूपेंद्र सिंह ने वन विभाग को सूचना दी। हाथियों का दल सुबह 4 बजे के आसपास सक्ती शहर वन विद्यालय होते हुए विद्युत मंडल सबडिवीजन पहुंचा। उन्होंने आहाता को तोड़ दिया और रेल किनारे होते हुए पोरथा एवं लवसरा के मध्य स्थित ग्राम पंचायत परसदा कला में मत्तू पटेल की बाड़ी में दिनभर विचरण करते रहे। हाथियों का झुंड परसदा कला ग्राम पंचायत में होने की खबर से ग्राम पंचायत के सरपंच शंकर लहरे ने पूरीजवाबदारी से सुरक्षा व्यवस्था के लिए सजगता दिखाई।











हाथियों का दल विचरण करने की सूचना मिलते ही शहर वासी व ग्रामीण दहशत में आ गए। वन विभाग के अध्ािकारी कर्मचारी भी चौकन्न्े थे। लगभग 20 कर्मचारियों ने स्थिति पर नियंत्रण रखा। अब भी वे हाथियों के लोकेशन पर नजर रखे हैं। गुरूवार की शाम हाथियों का दल भालू डेरा पहुंचा और खेत में युवक को देख एक हाथी ने उसे दौड़ाया दो खेत पार करने के बाद वह गिर गया तो एक हाथी ने उसके कमर को कुचल दिया। उसकी कमर की हड्डी फ्रेक्च्ार हो गई है। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

चौक चौराहों पर होती रही चर्चा
हाथियों का झुंड इस अंचल में पहली बार देखने को मिला है। इससे पहले भी एक दो की संख्या में हाथी आते रहे हैं। लेकिन पहली बार बड़ी संख्या में हाथियों के आने से दहशत का माहौल है। इसकी चर्चा इंटरनेट मीडिया एवं चौक चौराहों पर चल रही है।













LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here