देश

तुर्की में तबाही का मंजर : 4300 मौतें, 5600 इमारतें जमींदोज, 15 हजार जख्मी,तबाही के बीच एक बार फिर आया तुर्की में भूकंप,हर मिनट मिल रही लाशें

भूकंप की तीव्रता 7.8,

Turkey and Syria Earthquake: तुर्की और सीरिया के लोगों ने सोमवार को जो तबाही का मंजर देखा वह दशकों का दर्द देने वाला है। यहां भूकंप से भयानक तबाही हो रही है. दोनों देशों में अब तक 4300 लोगों की जान जा चुकी है। भूकंप की तीव्रता 7.8 थी। भूकंप के झटके इतने तेज थे कि हजारों इमारतें ताश के पत्तों की तरह ढह गईं। तुर्की प्रशासन का कहना है कि अब तक 5606 इमारतें गिर चुकी हैं. तबाही का ऐसा ही मंजर सीरिया में भी देखने को मिला है।

भारत ने भूकंप प्रभावित तुर्की को भूकंप राहत सामग्री की पहली खेप भेजी है। प्रधान मंत्री कार्यालय द्वारा की गई घोषणा के कुछ घंटों बाद, भारत ने भारतीय वायु सेना के विमान से भूकंप राहत सामग्री की पहली खेप तुर्की को भेज दी है। तुर्की में पिछले दिन 7.8, 7.6 और 6.0 तीव्रता के लगातार तीन विनाशकारी भूकंप आए थे।

भारत द्वारा भेजी गई राहत खेप में एक विशेषज्ञ राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल खोज और बचाव दल शामिल है। इसमें पुरुष और महिला दोनों कर्मी, अत्यधिक कुशल डॉग स्क्वॉड, चिकित्सा आपूर्ति, उन्नत ड्रिलिंग उपकरण और राहत प्रयास के लिए आवश्यक अन्य महत्वपूर्ण उपकरण शामिल थे। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने यह जानकारी दी।

इससे पहले सोमवार को भारत सरकार ने राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के खोज और बचाव दलों, चिकित्सा दलों और राहत सामग्री को तुरंत भूकंप प्रभावित तुर्की भेजने का फैसला किया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा प्रभावित देश को हर संभव मदद देने के निर्देश के बाद यह कदम उठाया गया है।

जानकारी के अनुसार, 100-100 सदस्यीय NDRF की दो टीमों को प्रशिक्षित कुत्तों और आवश्यक उपकरणों के साथ खोज और बचाव कार्यों के लिए भूकंप प्रभावित क्षेत्र में भेजा गया है। इसके साथ ही प्रशिक्षित डॉक्टरों और पैरामेडिक्स की टीम भी जरूरी दवाएं लेकर रवाना की गई है।

भूकंप ने चार देशों में भारी तबाही मचाई

सोमवार को आए भूकंप ने तुर्की और सीरिया समेत चार देशों में भारी तबाही मचाई। यहां बीते दिन तीन बार भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। भूकंप के कारण कई इमारतें ढह गईं। रिक्टर पैमाने पर भूकंप की तीव्रता 7.8 मापी गई। सैकड़ों लोग अब भी मलबे में फंसे हैं और कई लापता हैं. मरने वालों की संख्या और बढ़ने की आशंका है। तुर्की में सात दिनों के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की गई है।

15000 से ज्यादा लोग घायल

जानकारी के मुताबिक तुर्की और सीरिया में कम से कम 4300 लोग मारे गए हैं और 15000 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं। रिपोर्ट में देश के उपराष्ट्रपति फिएट ओकटे का हवाला देते हुए कहा गया है कि 10 शहरों में 1,700 से अधिक इमारतों को नुकसान पहुंचा है। वहीं, सीरिया में कम से कम 783 लोग मारे गए और 639 घायल हुए। इजराइल और लेबनान में भी कई मौतों की आशंका जताई जा रही है.

R.O. No. 12710/ 17

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button