देश

‘राम आग नहीं…ऊर्जा हैं, राम विवाद नहीं…समाधान हैं’, प्राण प्रतिष्ठा के बाद बोले पीएम मोदी

अयोध्या। 500 सालों के संघर्ष का इतिहास आज खत्म हो गया। राम मंदिर के गर्भगृह में भगवान राम लला की प्राण प्रतिष्ठा हो गई है। इस अवसर पर पीएम मोदी ने प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में शामिल हुए लोगों को संबोधित किया।
राम आग नहीं, ऊर्जा हैं- पीएम मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि आज का अवसर उत्सवता का तो क्षण है ही भारत के समाज के परिपक्वता का क्षण है। दुनिया का इतिहास साक्षी है कई राष्ट्र अपने ही उलझन में उलझ गए। उन्होंने कहा कि कई लोग बोलते थे कि राम मंदिर बना तो आग लग जाएगी, ऐसे लोग भारत के परिपक्वता को नहीं जान पाए। मैं उन लोगों को कहना चाहूंगा कि आइए महसूस कीजिए राम आग नहीं ऊर्जा हैं। राम समाधान हैं। राम सबके हैं। राम सिर्फ वर्तमान नहीं, अनंत काल हैं।

भारत की आस्था हैं प्रभु राम- पीएम मोदी
PM मोदी ने कहा कि राम भारत की आस्था हैं, राम भारत का आधार हैं। राम भारत का विचार हैं, राम भारत का विधान हैं। राम भारत की चेतना हैं, राम भारत का चिंतन हैं, राम भारत की प्रतिष्ठा हैं, राम भारत का प्रताप हैं। राम प्रभाव हैं, राम प्रवाह हैं, राम नेति भी हैं, राम नीति भी हैं। राम नित्यता भी हैं, राम निरंतरता भी हैं, राम व्यापक हैं, विश्व हैं, विश्वात्मा हैं। इसलिए जब राम की प्रतिष्ठा होती है तो उसका प्रभाव शताब्दियों तक नहीं होता उसका प्रभाव हजारों वर्षों तक होता है।


भाव-विभोर हुए पीएम मोदी, बोले- इस कार्यक्रम का हिस्सा बनना मेरा सौभाग्य
22 जनवरी का दिन भारत के इतिहास के सुनहरे पन्नों पर लिख दिया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राम मंदिर पहुंच चुके हैं और अनुष्ठान कार्यक्रम शुरू हो चुका है। पीएम मोदी रामलला की आरती कर रहे हैं। इसी बीच पीएम मोदी भाव-विभोर हो गए।

इस खास मौके पर पीएम मोदी ने कहा कि अयोध्या धाम में श्री राम लला की प्राण-प्रतिष्ठा का अलौकिक क्षण हर किसी को भाव-विभोर करने वाला है। इस दिव्य कार्यक्रम का हिस्सा बनना मेरा परम सौभाग्य है। जय सियाराम!
बता दें भारतवासी इस दिन का 500 साल से इंतजार कर रहे थे। पीएम मोदी के प्रयासों से उनकी ये प्रतीक्षा की घड़ी समाप्त हो गई है। प्राण-प्रतिष्ठा के इस समारोह में बॉलीवुड स्टार्स, अंबानी परिवार और विदेशों से भी लोगों ने शिरक्त की।

R.O. No. 12710/ 17

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button