रायगढ़। देश में रेल यात्रियों की सुविधाओं और रेलवे स्टेशनों को विकसित किया जा रहा है. केंद्रीय बजट में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने रेलवे के लिए 2.41 लाख करोड़ रुपए स्वीकृत किए हैं. इससे अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत 1275 स्टेशनों को आधुनिक बनाया जाएगा. इस योजना के तहत दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे मंडल के कई स्टेशनों को भी उच्चीकृत करने के लिए चयनित किया गया है। जिनमें छत्तीसगढ़ के कई रेलवे स्टेशनों के साथ-साथ रायगढ़ स्टेशन का भी नाम शामिल है।
अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे मंडल में छत्तीसगढ़ के कई स्टेशनों का चयन किया गया है. इन चयनित स्टेशनों पर प्रवेश द्वार का चैड़ीकरण होगा. वेटिंग हाॅल का विस्तार, उच्च स्तरीय प्रकाश की व्यवस्था समेत कई सुविधाएं की जाएगी. अमृत भारत योजना के तहत दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के रायपुर, भिलाई, दुर्ग, राजनांदगांव, बालोद, दल्लीराजहरा, मडोदा, भाटापारा, भिलाई पाॅवर हाउस, भिलाई नगर, तिल्दा नेवरा, बिल्हा, भानुप्रतापपुर, हथबंद, सरोना, मंदिर हसौद, उरकुरा, निपनिया, डोंगरगढ, बेलपदर, रायगढ़ समेत कई स्टेशनों पर सुविधाएं बढ़ाई जाएगी।

अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत चयनित रेलवे स्टेशनों पर प्रवेश द्वार का चौड़ीकरण, उच्च स्तरीय प्रकाश व्यवस्था, स्टेशन वेटिंग हॉल का विस्तार, स्टेशन पर उपलब्ध अनुपयोगी स्थान को जोड़ते हुए एग्जीक्यूटिव लाउंज का विस्तार, सर्कुलेटिंग एरिया के प्रत्येक तरफ साइनेज, अप्रोच सड़क का चैड़ीकरण, पैदल चलने वालों के लिए रास्ता, वाहन का प्रवेश-अस्तित्व, प्रकाश व्यवस्था के साथ पार्किंग क्षेत्र, स्टेशनों की लैंड स्केपिंग, भूनिर्माण, हरे पैच और स्थानीय कला को बढ़ावा देने के लिए कार्य किए जाएंगे।

अमृत भारत स्टेशन योजना का उद्देश्य रेलवे स्टेशनों पर न्यूनतम आवश्यक सुविधाओं के इतर सुविधाओं को बढ़ाने के लिए मास्टर प्लान तैयार करना है. इस मास्टर प्लान को स्टेशन पर रूफ प्लाजा और सिटी सेंटर के निर्माण के लक्ष्य के साथ चरणबद्ध तरीके से लागू किया जाएगा. इस योजना में लोगों की आवश्यकताओं का भी ध्यान रखा गया है. स्टेशन पर नई सुविधाओं की शुरूआत के साथ ही पुरानी सुविधाओं को भी इस योजना के तहत अपग्रेड किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here