PM Matritva Vandana Yojana: गर्भवती महिलाओं को सरकार दे रही 6 हजार रुपये, ऐसे उठाएं योजना का लाभ

0
1

रायगढ़, 27 जनवरी 2023/ भारत शासन द्वारा मिशन शक्ति के अंतर्गत नवीन दिशा निर्देश जारी किए गए है। जिसमें प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना अंतर्गत भी आवश्यक संशोधन किया गया है, जिसमें पूर्व निर्देशानुसार चिन्हित सामाजिक एवं आर्थिक रूप से कमजोर वर्गो के प्रथम बच्चे के जन्म पर माता को दी जाने वाली 5 हजार रुपये की राशि 3 किश्तों की बजाए अब 2 किश्तों में किए जाने का निर्णय लिया गया है। ऐसे चिन्हांकित परिवारों के प्रथम बच्चे हेतु, गर्भावस्था के पंजीयन पर एवं कम से कम एक प्रसव पूर्व जांच कराए जाने पर (गर्भावस्था के 6 माह के अंदर)पहली किश्त की राशि 3 हजार रुपये दी जाएगी तथा दूसरी किश्त की राशि 2 हजार रुपये बच्चे के जन्म पंजीकरण तथा बीसीजी, पोलियो, डीटीपी एवं हेपेटाइटिस-बी या इसके समानान्तर/विकल्प का प्रथम चक्र का टीका लगाए जाने के पश्चात देय होगा।

जिला कार्यक्रम अधिकारी/महिला एवं बाल विकास अधिकारी से प्राप्त जानकारी के अनुसार योजनान्तर्गत भारत शासन द्वारा अब 1 अप्रैल 2022 के बाद पूर्वत: चिन्हांकित सामाजिक एवं आर्थिक रूप से कमजोर वर्गो के परिवार में जन्मे द्वितीय संतान बालिका होने पर एकमुश्त 6 हजार रुपये का लाभ दिए जाने के निर्देश दिए गए है। 17 जनवरी 2023 को भारत शासन से हुए वीडियो कान्फ्रेंसिंग में यह अवगत कराया गया है कि वेबसाइट में द्वितीय बालिका संतान को लाभान्वित किए जाने हेतु आवश्यक उपबंध किए जा रहे है तथा मैदानी स्तर पर सभी संभावित हितग्राहियों के चिन्हांकन किए जाने के निर्देश दिए जा रहे है। अतएव सामाजिक एवं आर्थिक रूप से कमजोर वर्गो के परिवार के 1 अप्रैल 2022 के उपरांत जन्मी द्वितीय बालिका संतान का चिन्हांकन प्रारंभ किया जाएगा। जिसमें चिन्हांकित माता का सही आधार नंबर एवं माता का आधार लिंक बैंक खाते की जानकारी, माता का मातृ शिशु रक्षा कार्ड अनिवार्य रूप से संधारित हो,जन्म ली हुई बालिका का जन्म प्रमाण-पत्र, द्वितीय बालिका संतान को प्रथम चक्र हेतु निर्धारित सभी टीके लगे होने चाहिए। भारत सरकार द्वारा प्रदेश में प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना अंतर्गत अधिक से अधिक हितग्राहियों के चिन्हांकन के निर्देश दिए गए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here