रायगढ़

मकर संक्रांति पर्व पर केलो उद्धार समिति का शानदार आयोजन.. 21 पंडितों द्वारा केलो गंगा का वैदिक मंत्रों उच्चारण से की गई आरती

केलो धरोहर के रूप में छत्तीसगढ़ी गायक नितिन दुबे का किया गया सम्मान

Raigarh News रायगढ़ 15 जनवरी। आरती मेरी स्वीकार करो केलो मैया उद्धार करो मकर संक्रांति के अवसर पर रायगढ़ के जीवनदायिनी केलो नदी कि भव्य आरती के साथ पूजा किया गया वैदिक मंत्र उच्चारण के साथ 21 पंडितों ने आरती संपन्न कराई इस अवसर पर आम जनमानस का हुजूम केलो तट पर उमड़ पड़ा रायगढ़ जिले में जीवनदायिनी केलो नदी पर हर साल या भव्य आरती किया जाता है इस साल भी उत्सव के साथ आरती की गई इस आरती में अयोध्या एवं चित्रकूट के पंडित भी शामिल हुए आस्था से जोड़ने के लिए केलो नदी की महा आरती साफ-सफाई स्वच्छता बनाने के लिए जागरूकता के लिए यह आरती की जाती है केलो नदी में उमड़ी भीड़ यह बताता है कि धीरे-धीरे यह महोत्सव का रूप लेते जा रहा है इस मौके पर जगह-जगह तट पर भंडारों का आयोजन किया गया साथ ही भक्ति संगीत व लोकगीत का कार्यक्रम भी चलता रहा देर रात्रि तक चलने वाले कार्यक्रम में माहौल खुशनुमा हो गया था केलो मैया की महाआरती 21 पंडितों ने मिलकर संपन्न कराई आरती के समय वातावरण वैदिक मंत्र उच्चारण श्री गुंजेमान रहा केलो नदी तट ऐसा लग रहा था जैसे बनारस की गंगा तट हो आरती में श्रीफल कुमकुम चंदन अक्षत पुष्प के साथ विशाल दीप प्रज्वलित कर आरती किया गया केलो महाआरती 2017 में प्रारंभ की गई थी इस महाआरती का प्रारंभ करने का मुख्य उद्देश्य जन जागरूकता लोगों की स्वच्छता के प्रति जागरूक करना है आज केलो महा आरती का उद्देश्य धीरे-धीरे पूरा हो रहा है पहले की तुलना में खेलों में स्वच्छता व साफ-सफाई बढ़ गई है लोग जागरूक हो रहे हैं


नितिन दुबे ने पहली बार खुद का लिखा केलो आरती गीत लाइव प्रस्तुत किया
Kelo Dharohar Samman केलो नदी रायगढ़ में जीवन दायिनी माँ के रूप में मानी जाती हैं और नितिन ने केलो महोत्सव 2023 में खुद का लिखा और संगीतबद्ध किया गया गीत “जय होवय केलो महतारी दाई मोर, निर्मल बहे तोर धार दाई मोर, आरती गावय संसार” को लाइव प्रस्तुत किया जिसे सुनकर सभी श्रद्धालु झूम उठे, और केलो उद्धार समिति ने नितिन से इस गीत को रिकॉर्ड करने और वीडियो बनाकर लॉन्च करने का आग्रह किया जिसे नितिन दुबे ने स्वीकारते हुए बहुत जल्द इस गीत को अपने यूट्यूब चैनल नितिन दुबे ऑफीशियल पर लॉन्च करने का वादा किया। ये पहली बार था कि नितिन दुबे ने अपने किसी गीत को बिना रिलिज़ किए ही मंच पर लाइव प्रस्तुत किया। बता दें कि इस से पहले भी 2022 में नितिन दुबे को “छत्तीसगढ़ मेलोडी किंग” का सम्मान मिल चुका है और वर्ष 2009 में उन्हें “कला अनमोल रत्न” और 2008 में “माटी रत्न” से नवाज़ा जा चुका है।

इस महाआरती में विभिन्न समाज के लोगों ने अपनी उपस्थिति दी जिसमें मुख्य रुप से ब्राह्मण समाज सिख समाज मुस्लिम समाज यादव समाज देवांगन समाज सिंधी समाज छत्तीसगढ़ कनौजिया समाज अग्रवाल समाज बरेठ समाज नई समाज साहू समाज व अन्य समाजों ने भी अपनी उपस्थिति दर्ज की।
शहर के गणमान्य नागरिकों में रायगढ़ विधायक प्रकाश नायक गुरुपाल भल्ला सुभाष पांडे डॉक्टर प्रकाश मिश्रा डॉक्टर लोकेश षंडगी देवेश षंडंगी, बलवीर शर्मा व अन्य गणमान्य नागरिकों ने आरती की केलो उद्धार समिति के सभी सदस्यों ने केला मैया से सभी की कुशलता की कामना की।

R.O. No. 12710/ 17

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button