Raigarh News रायगढ़ 14 जनवरी। शाम को छह बजे का शहरवासियों को बेहद इंतजार था। पांच बजे से ही केलो नदी के तट पर भक्तगण पहुंचने लगे व सभी के हाथों में श्रद्धा के दीप थे व शहर की शाम छह बजते ही दीपों से जगमगाया। शंख, घंटा व पवित्र केलो मैया के मधुर भजन गीत व महाआरती से केलो तट गुंजित हो गया व एक बार फिर शहरवासियों ने अपने एकता प्रेम व अपनी श्रद्धा से साबित कर दिया कि हम सभी जीवनदायिनी केलो मैया की स्वच्छता व संरक्षण के लिए सदैव समर्पित रहेंगे। वहीं जिसने भी इस आध्यात्मिक मंजर को देखा उसका हृदय केलो मैया के प्रति श्रद्धा से भर गया और लोगों ने आयोजक केलो उद्धार समिति के इस पहल की सराहना की।

श्रद्धा से हुई महाआरती
शहर के केलो उद्धार समिति के सभी सदस्यों द्वारा शहर की जीवन दायिनी देवी केलो मैया की स्वच्छता व संरक्षण के लिए आध्यात्मिकता से लबरेज होकर केलो महाआरती का आयोजन किया जा रहा है। वहीं इस बार भी भव्य बाजे – गाजे व जयकारे के साथ पं बृजेश्वर प्रसाद मिश्र और पंडितों के सानिध्य में समलाई माता मंदिर स्थित केलो तट में योग्य पंडितों ने वैदिक मंत्रोच्चार के साथ पूजा – अर्चना किए व श्रद्धालुओं ने दीपों से महाआरती किए व तट केलो मैया के जयकारे से गुंजायमान हो गया।

 


शामिल हुए श्रद्धालु
केलो महाआरती के कार्यक्रम में शाम को छह बजे विधायक प्रकाश नायक,श्रीमती सुषमा नायक, सभापति जयंत ठेठवार, राजेश भारद्वाज, गुरुपाल भल्ला, सुभाष पांडेय, राजपरिवार सदस्य देवेंद्र प्रताप सिंह, गौतम अग्रवाल जनकर्म संपादक, प्रभात साहू, अनिल शुक्ला, राजेन्द्र पाण्डेय व शहर के अनेक गणमान्य नागरिकों और सभी संस्था प्रमुख की उपस्थिति में पंडितों ने विधि विधान से मुख्य पं ब्रजेश्वर मिश्रा के सान्निध्य में घंटा ध्वनि के साथ महाआरती की। इसी तरह श्रद्धालुओं के लिए प्रसाद की व्यवस्था की गई थी।

शानदार भजन संध्या कार्यक्रम
इस कार्यक्रम के अंतर्गत राज्य के सुप्रसिद्ध भजन गायक नितिन दुबे ने एक से बढ़कर एक सुपर हिट गीत सुनाकर लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया। इसी तरह टीम के सभी कलाकारों ने कार्यक्रम में अपनी प्रस्तुति से समां बांधा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here