रायपुर। कचरा बीनने वाली छत्तीसगढ़ की 85 वर्षीय बिदुला बाई देवार को अयोध्या में रामलला के दर्शन के लिए आमंत्रित किया गया है। बिदुला बाई ने 2021 में श्रीराम मदिर निर्माण के लिए 20 रुपये दान दिए थे। उक्त राशि भले ही सुनने में छोटी लगे, लेकिन उनकी भावनाएं का स्तर बहुत ऊंचा था।दरअसल, बिदुला बाई ने कचरा बेचकर उस दिन 40 रुपये कमाए थे, जिसमें से आधी राशि दान कर दी थी।

गरियाबंद जिले की बिदुला बाई धर्मनगरी राजिम में रहती हैं, जहां भगवान विष्णु का मंदिर है। विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के जिलाध्यक्ष शिशुपाल सिंग राजपूत ने बताया कि वह यहां धनसंग्रह व अक्षत अभियान के प्रमुख हैं। वर्ष 2021 में मंदिर निर्माण के लिए हो रहे धनसंग्रह के लिए निकली टोलियों को बुलाकर कचरा बीनने वाली बिदुला बाई ने अपनी दिनभर की 40 रुपये की कमाई में से आधी राशि दे दी थी।

बाद में समीक्षा बैठक में जब यह अनुभव साझा किया तो विहिप के प्रदेश पदाधिकारियों ने उन्हें विशेष रूप से रामलला के दर्शन के लिए आमंत्रित करने का निर्णय लिया था। इसलिए विहिप के प्रदेशाध्यक्ष चंद्रशेखर वर्मा सोमवार को उन्हें आमंत्रण देने पहुंचे। स्वास्थ्यगत कारणों से बिदुला बाई को 22 जनवरी को तो नहीं, बाद में भगवान राम के दर्शन के लिए अयोध्या ले जाया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here