छत्तीसगढ़

CG News : धू-धूकर जला दो मंजिला दुकान… बोरवेल मशीन, सबमर्सिबल पंप, वायर समेत पूरा सामान जलकर खाक.. सवा करोड़ के नुकसान की आशंका

बलौदाबाजार. बलौदाबाजार के अमेरा स्थित शुभम ट्रेडर्स में सोमवार देर रात भीषण आग लग गई। आग से सवा करोड़ के नुकसान की आशंका जताई जा रही है। शुभम ट्रेडर्स रायपुर-बलौदाबाजार मुख्य मार्ग पर पलारी ब्लॉक के ग्राम अमेरा में है। दुकान में बोरवेल मशीन, पंप और बोरवेल करने का सामान रखा हुआ था। आग ने सभी सामान को अपनी चपेट में ले लिया। दुकान में रखा सारा सामान जलकर खाक हो गया है।

जानकारी के मुताबिक, अमेरा निवासी देवनाथ साहू शुभम ट्रेडर्स के संचालक हैं। वे शाम के 7.45 बजे अपनी दुकान बंद करके घर चले गए। उनका घर उसी परिसर में दुकान के पीछे है। कुछ ही देर बाद उन्हें आसपास के लोगों का फोन आया कि उनकी दुकान में आग लग गई है। वे तुरंत वापस लौटे। शटर बंद होने के कारण आग ने भीषण रूप धारण कर लिया। लोगों की मदद से उन्होंने आग बुझाने की कोशिश की, लेकिन आग ने भीषण रूप धारण कर लिया था। उन्होंने तुरंत फायर ब्रिगेड को सूचना दी।

दो मंजिला दुकान धू-धूकर जला
तत्काल दमकल की 4 गाड़ियां मौके पर पहुंची। करीब 4 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका। आग की लपटें दुकान की छत और बालकनी तक भी पहुंच गई। दुकान के मालिक देवनाथ साहू ने बताया कि वे घटना से 10 मिनट पहले ही घर पहुंचे थे कि उन्हें आग लगने की जानकारी मिली। उन्होंने कहा कि शॉर्ट सर्किट के कारण आग लगी, जो दुकान के काउंटर से शुरू हुई। उनकी दुकान दोमंजिला है। आग बालकनी तक पहुंची, वहां ऑयल का कंटेनर रखा हुआ था, उसमें आग लगने के कारण पूरे दुकान का सामान ही धू-धूकर जलने लगा। देवनाथ साहू ने कहा कि उन्होंने दुकान की शटर खोलने की कोशिश की, लेकिन वक्त पर चाबी ही नहीं मिली। बाद में उन्होंने जैसे-तैसे एक शटर खोला, तब तक आग पूरी दोमंजिला दुकान में फैल चुकी थी।

आग से बिल्डिंग हुई जर्जर, पड़ी दरारें
दुकानदार ने बताया कि शॉप में रखा हुआ ऑयल केबल, वायर, सबमर्सिबल पंप, टुल्लू पंप, बोरवेल मशीन, पाइप, स्पेयर पार्ट्स, ऑयल और सर्विस वायर पूरी तरह से जलकर खाक हो गए हैं। प्लास्टिक और ऑयल का सामान होने के कारण आग काफी तेजी से फैली, जिसे कंट्रोल करने में 4 घंटे लगे। सोमवार रात साढ़े 12 बजे के करीब आग पर काबू पाया गया। आग लगने से दुकान पूरी तरह से जर्जर हो गई है, जो कभी भी गिर सकती है। बिल्डिंग में दरारें आ गई हैं, प्लास्टर भी उखड़ गया है। वहीं दुकान से 15 फीट की दूरी पर ही पूरा परिवार रहता था, जो बाल-बाल बचा। पड़ोसियों और आसपास के लोग भी दहशत में थे, क्योंकि आग इतनी भीषण थी कि उसके दूसरी दुकानों और घरों में भी फैलने का खतरा था। हालांकि कोई अनहोनी और जनहानि नहीं हुई।

केवल 80 हजार रुपए नगद बचा सका दुकानदार
पीड़ित दुकान संचालक देवनाथ साहू ने बताया कि वो केवल 80 हजार रुपए नगद बचा पाया, बाकी सवा करोड़ से ज्यादा का सामान जल गया है। उसने सामान का बीमा नहीं कराया था, जो उसके लिए एक बड़ा झटका है। उन्होंने कहा कि वे सभी भूखे-प्यासे रातभर जागे रहे। अब पता नहीं नुकसान की वे किस तरह से भरपाई करेंगे। सबसे ज्यादा 100 से अधिक सबमर्सिबल पंप थे, जो जल गए हैं। एक समर्सिबल पंप 40 हजार रुपए का था। इस तरह 40 लाख रुपए का तो सिर्फ समर्सिबल पंप ही था। उसके साथ बाकी सामान और दुकान के सारे दस्तावेज भी आग के हवाले हो गए। बता दें कि ये पलारी ब्लॉक की सबसे बड़ी बोरवेल मशीन की दुकान है।

भाटापारा में 11 जनवरी को घर में फटा था गैस सिलेंडर
बुधवार 11 जनवरी को बलौदाबाजार-भाटापारा जिले में गैस सिलेंडर फटने से घर में आग लग गई थी। भाटापारा के शक्ति वॉर्ड में गैस सिलेंडर फटने से 10 साल का बच्चा और उसके पिता झुलस गए थे। आसपास के लोगों ने जब सिलेंडर फटने की आवाज सुनी और आग देखा, तो तुरंत मदद के लिए पहुंचे। उन्होंने फायर ब्रिगेड को भी सूचना दी। जानकारी मिलने पर नगरपालिका और पुलिस की टीम घटनास्थल पर पहुंची और स्थानीय लोगों की मदद से आग पर काबू पाया। घायल बच्चे और पिता को इलाज के लिए सिविल हॉस्पिटल भाटापारा में भर्ती कराया गया।

भाटापारा शहर थाना प्रभारी अरुण साहू ने बताया था कि उन्हें सूचना मिली थी कि शक्ति वार्ड के राजा मसीह के घर में सिलेंडर फटने के बाद आग लग गई है। तत्काल पुलिस टीम मौके पर पहुंची, तब तक पड़ोसियों और नगर पालिका की टीम आग बुझाने का काम कर रही थी। हालांकि आग से कोई जनहानि नहीं हुई है। आग को समय पर बुझा लिया गया, जिसके कारण बाकी के घर उसकी चपेट में नहीं आए। आग लगने का कारण फिलहाल अज्ञात है। भाटापारा शहर पुलिस घटना की जांच में जुटी है।

R.O. No. 12710/ 17

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button