Cg News: दल से बिछड़ा हाथी शहर में घुसा…तोड़फोड़ कर हाथी वन अधिकारियों के कॉलोनी तक पहुंचा…

0
1

अंबिकापुर। दल से अलग विचरण कर रहा जंगली हाथी अंबिकापुर शहर में घुस आया है।यह जंगली हाथी अभी शहर के बाहरी क्षेत्र में है। वन और पुलिस विभाग के अधिकारी-कर्मचारी जंगली हाथी को सुरक्षित तरीके से बाहर निकालने का प्रयास कर रहे है। जंगली हाथी के शहर में आ जाने से गोधनपुर,प्रतापपुर रोड,रामानुजंगज रोड,सोनपुर क्षेत्र में लोग भयभीत है।

बांसबाड़ी में होने की संभावना

जंगली हाथी के वर्तमान में बांसबाड़ी में होने की संभावना पर खोजबीन की जा रही है। जंगली हाथी के शहर में आ जाने की खबर वन विभाग की टीम को तब लगी जब इसने तोड़फोड़ करना शुरू किया। जंगली हाथी ने वृक्षमित्र ओपी अग्रवाल के जैव विविधता केंद्र के नजदीक एक दीवार को क्षतिग्रस्त किया। यहां से बांसबाड़ी के अहाते को दो स्थानों पर तोड़ कर सीधे वन अधिकारियों की कालोनी तक पहुंच गया।

 

अधिकारी सतर्क

हाथी आगे बढ़ते हुए मुख्य वन संरक्षक के बंगले तक पहुंच गया था।वहां से जंगली हाथी फिर बांस बाड़ी में पहुंच गया है।यहां लंबे चौड़े क्षेत्र में जंगल है। जंगली हाथी फिलहाल शहर के बाहरी क्षेत्र में है लेकिन वह शहर के भीड़भाड़ वाले क्षेत्र में न घुस जाए इसे लेकर अधिकारी भी सतर्क है।

 

यह जंगली हाथी कई दिनों से अकेले ही घूम रहा है। पिछले दिनों जंगली हाथी ने सीतापुर व बतौली के सीमावर्ती ग्राम में एक महिला को कुचल कर मार दिया था। वहां से आगे बढ़ते हुए जंगली हाथी लुंड्रा वन परिक्षेत्र में घुसा था।मकानों में तोड़फोड़ और फसलों को नुकसान पहुंचाने के साथ यह लगातार आगे बढ़ रहा था। सही तरीके से निगरानी नहीं होने के कारण यह शहर में प्रवेश कर गया।

जंगली हाथी का शहर में प्रवेश पहली बार नहीं हुआ है। इसके पहले भी शहर में जंगली हाथियों ने प्रवेश किया है।कुछ वर्षों पूर्व जंगली हाथियों का दल शहर के बीचों-बीच होकर गुजरा था।इसके बाद मनेन्द्रगढ़ मार्ग में होलीक्रास स्कूल के नजदीक जंगली हाथियों ने डेरा जमाया था।फिर जंगली हाथियों का एक दल शहर के बाहरी क्षेत्र से होकर गुजरा था।इस बार सिर्फ एक हाथी है। इसकी निगरानी कर सुरक्षित तरीके से बाहर निकालने का प्रयास किया जा रहा है।

शहर में घुस आया जंगली हाथी
अम्बिकापुर शहर में घुस आया जंगली हाथी अभी बौरीपारा मोहल्ले से लगे गाड़ाघाट नर्सरी में डटा हुआ है। मौके पर वन विभाग की टीम व पुलिस कर्मी मौजूद हैं। हाथी के इसी रास्ते आगे बढ़ने की संभावना है। इसके संभावित रास्ते में आने वाले इलाके के लोगों को सतर्क किया जा रहा है। फिलहाल हाथी के नर्सरी में डटे रहने से वन विभाग को थोड़ी राहत मिली है। संभावना जताई जा रही है कि हाथी शाम होते ही आगे बढ़े।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here