देश

राम मंदिर को लेकर पीएम मोदी का कांग्रेस पर हमला, पूछा- ‘2019 में वक्फ बोर्ड चुनाव लड़ेगा या कांग्रेस’

रायगढ़ टॉप न्यूज/अहमदाबाद 6 दिसंबर। गुजरात में चुनावी सरगर्मियों के बीच राम मंदिर का मुद्दा गरमा गया है. आज अहमदाबाद में धुंधाआ में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राम मंदिर मामले को लेकर कांग्रेस पर जमकर निशाना साधा. पीएम मोदी ने कांग्रेस से पूछा है कि साल क्या 2019 में सुन्नी वक्फ बोर्ड चुनाव लड़ेगा या कांग्रेस?

क्या आप चुनाव के लिए राम मंदिर को लटकाना चाहते हो?- पीएम मोदी
रैली में पीएम मोदी ने कहा, ‘’कांग्रेस के सांसद कपिल सिब्बल सुप्रीम कोर्ट में मुस्लिम समाज का पक्ष रख रहे हैं. ये उनका हक है, मुझे इसपर कोई शिकायत नहीं है. वह बाबरी मस्जिद बचाने के लिए वकालत कर रहे हैं, मुझे कोई समस्या नहीं है.’’ उन्होंने आगे कहा, ‘’आप दलील रख सकते हैं लेकिन सुप्रीम कोर्ट में ये कहने की हिम्मत कर रहे हो कि साल 2019 के चुनाव तक सुनवाई टाल दी जाए, क्या आप (कांग्रेस) चुनाव के लिए राम मंदिर को लटकाना चाहते हो?’’

चुनाव सुन्नी वक्फ बोर्ड लड़ेगा या कांग्रेस पार्टी लड़ेगी- पीएम मोदी
पीएम मोदी ने आगे कहा, ‘’कांग्रेस ने इसी तरह देश की दुर्दशा की है, मुझे अब समझ में आया.’’ उन्होंने कहा, ‘’कांग्रेस कह रही है कि कपिल सिब्बल ने कोर्ट में जो कहा वो उनकी निजी राय है. आप ये बताइए कि चुनाव सुन्नी वक्फ बोर्ड लड़ेगा या कांग्रेस पार्टी लड़ेगी. राम मंदिर का फैसला सुप्रीम कोर्ट करेगा और आप राजनीतिक नफा नुकसान में लगे हो.’’

क्या है पूरा मामला?
दरअसल अयोध्या विवाद को लेकर कल सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल ने कल सुन्नी वक्फ बोर्ड की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में पक्ष रखा. कपिल सिब्बल समेत तीन वकीलों ने कल सुप्रीम कोर्ट में मामले की सुनवाई जुलाई साल 2019 के बाद करने की मांग की है. कपिल सिब्बल की इसी मांग पर बीजेपी ने हमला बोला है और राहुल गांधी से राम मंदिर पर अपना स्टैंड साफ करने की अपील की है.

विवादित जमीन पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई
अयोध्या केस में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई का कल पहला दिन था. सुप्रीम कोर्ट को तय करना है कि अयोध्या में विवादित जमीन किसकी है? रामलला विराजमान की, निर्मोही अखाड़ा की या फिर सुन्नी वक्फ बोर्ड की? सुप्रीम कोर्ट में अब इस मामले की अगली सुनवाई आठ फरवरी को होगी. राम मंदिर का मुद्दा बरसों से चुनावों में खूब उछलता रहा है, इस बार भी गुजरात चुनाव से ऐन पहले मंदिर पर संग्राम छिड़ गया है.
साभार एबीपी न्यूज

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close