धर्म

आज अयोध्या जाएंगे श्री श्री रविशंकर,संतों से करेंगे मुलाकात

आर्ट ऑफ लिविंग संस्था के संस्थापक व आध्यात्मिक गुरु श्रीश्री रविशंकर आज अयोध्या में श्रीरामजन्मभूमि विवाद के कई पक्षकारों से मिलेंगे।

रायगढ़ टॉप न्यूज। वह लखनऊ से चलकर सड़क मार्ग से पूर्वाह्न 10 बजे अयोध्या पहुंचेंगे और सीधे मणिराम छावनी जाएंगे। वहां श्रीरामजन्मभूमि न्यास के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास महाराज सहित अन्य संतों से भेंट कर रामजन्मभूमि बनाम बाबरी मस्जिद विवाद के सम्बन्ध में सभी संतों की राय जानेंगे। इसके साथ ही वह मुस्लिम पक्षकारों से भी भेंट करने उनके आवास जाएंगे।

भक्तों से करेंगे मुलाकात 
इसके उपरांत तोताद्रि मठ में वह अपने भक्तों से भेंट करेंगे। देर शाम वह लखनऊ वापस जाएंगे। इससे पहले उनके आगमन के मौके पर अधिकांश संतों का समर्थन जुटाने का प्रयास बंगलुरु से आए उनके प्रतिनिधि स्वामी भव्य तेज की ओर से किया गया। इसी सिलसिले में उन्होंने दिगम्बर अखाड़ा में महंत सुरेश दास व दंतधावन कुंड के महंत नारायणाचारी के साथ संत समिति के अध्यक्ष व सनकादिक आश्रम के महंत कन्हैया दास रामायणी व रामायणी रामशरण दास के अलावा अन्य संतों से भेंट की। इसके साथ ही वह गुरुदेव को रिसीव करने के लिए लखनऊ रवाना हो गए। इस बीच बाबरी मस्जिद के पैरोकार हाजी महबूब के भी लखनऊ पहुंचने की खबर है।

रविशंकर के पहुंचने से बढ़ीें उम्मीदें 
हालांकि महबूब ने हिन्दुस्तान से दूरभाष पर बातचीत में कहा कि वह दिल्ली में अपने अधिवक्ता से भेंट करने गए थे और वहीं से वापस लौट रहे हैं। उनकी फ्लाइट देर शाम लखनऊ पहुंचेगी। इससे पहले आध्यात्मिक गुरु के आगमन को लेकर निर्मोही अखाड़ा की उम्मीदें खासी बढ़ गई हैं। दरअसल अयोध्या आगमन से पहले बंगलुरु में ही पिछले दिनों श्रीश्री रविशंकर ने निर्मोही अखाड़ा के महंत दिनेन्द्र दास समेत अखाड़े के अन्य प्रतिनिधियों व सुन्नी सेन्ट्रल वक्फ बोर्ड से जुड़े प्रतिनिधियों को भी आमन्त्रित किया था। दोनों पक्षों के प्रतिनिधियों की अंदरखाने हुई वार्ता में निर्मोही अखाड़ा को मुख्य पक्षकार के रूप में स्वीकार कर लिया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close