रायगढ़

पांच साल के मासूम को ब्लड कैंशर , कहां से इलाज की व्यवस्था करे मजदूर पिता

रायगढ़। रायगढ़ शहर के छोटे से गांव कोटरा पाली के रहने वाले कमल चौहान पेशे से मजदूरी का काम करने वाला जब उसे पता चला कि उसके बेटे युवराज चौहान को ब्लड कैंसर हो गया है तो मानो उसके पैर तले जमीन खिसक गई।
दरअसल कमल चौहान के करीब 5 साल का मासूम बेटा जो पिछले एक माह से बीमार चल रहा है और कुछ खाना वगैरह भी नही खा रहा है गले और जांघ में गांठ जैसा है जिसका कई जगह इलाज के बाद भी जब ठीक होने का नाम नही ले रहा था। तब इसी बीच पीडि़त बच्चे का पिता कमल चौहान से मिलने आशुतोष पांडे जिनके निर्माणाधीन मकान के काम मे कमल के 15-20 दिन से नही आने पर जब कोटरापाली स्थित उसके निवास पहुंच कर जानना चाहा कि आखिर वह काम पर क्यो नही आ रहा है तो उसने बताया कि उसके बेटे को गले और जांघ में गांठ जैसा कुछ।हो गया है जिसका इलाज लोइंग अस्पताल में कराने के बाद मेडिकल कॉलेज अस्पताल भी लेकर गया था लेकिन कोई फायदा नही हो रहा है। इस पर श्री पांडे ने बच्चे को शहर बुलवाकर कर चाइल्ड स्पेशलिस्ट डॉ रघुवर पटवा के यहां लेकर गए तब स्तिथि को देखते हुए उसके ब्लड और अन्य जांच कराने लिखा गया जब ब्लड रिपोर्ट लेकर पुन: डॉ पटवा के पास पहुंचे तब उन्होंने बच्चे को ब्लड कैंसर होने की बात कही और बताया कि अभी तत्त्काल बच्चे को मेकाहारा रायपुर लेकर जाओ और अभी ठीक हो सकता है। इसकी पुष्टि के श्री पांडे रिपोर्ट को मेडिकल।कॉलेज अस्पताल के डॉक्टरों को दिखलवा तब यहां भी डॉक्टर ने बच्चे को ब्लड कैंसर होने की पुष्टि करते हुए तत्काल मेकाहारा जाने की सलाह दी।
आपको बता दे कि मेडिकल कॉलेज अस्पताल में डॉक्टर द्वारा इलाज के नाम पर महज औपचारिकता निभाई यदि बच्चे को निजी अस्पताल लेजाकर नही दिखाया गया होता तो अब तक डॉक्टर गांठ का इलाज करते रहते। फिलहाल अब समस्या है कि एक मजदुर कैसे अपने बच्चे का इलाज कराए उसके पास न इतने रुपये की व्यवस्था है और न ही स्मार्ट कार्ड है। आनन फानन में श्री पांडे और बच्चे के पिता द्वारा कुछ रकम का बंदोबस्त कर बच्चे को मेकाहारा रायपुर भेजने की तैयारी कर रहे हैं। ताकि समय रहते बच्चे का इलाज।शुरू हो सके आपको बता दें कि पिछले 15 -20 दिनों से बच्चा कुछ खाना वगैरह नही खा पा रहा है सिर्फ चाय मुर्रा थोड़ा सा खा लेता है और सिर्फ पानी पीते रहता है। मुनादी .काम की टीम जब बच्चे के घर पहुंच कर बच्चे की स्थिति का जायजा लिया तो बच्चा बेहद कमजोर और निराश हताश माता पिता मिले। उन्होंने रायगढ़ विधायक सहित शासन प्रशासन व समाजसेवियों से मदद की अपील की है ताकि वह अपने बच्चे का इलाज करा सकें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close