देश

मोदी ने कहा- आपने 70 साल लाल बत्ती का रौब देखा, इसे हटाकर हमने गरीबों के घर सफेद बत्ती दी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भागलपुर, बांका और मुंगेर के एनडीए प्रत्याशियों के पक्ष में की सभा
नीतीश कुमार और रामविलास पासवान ने भी मंच साझा किया
मोदी ने कहा- पहले पाक आतंकी भेजता था, कांग्रेस की सरकार सिर्फ कागजी कार्रवाई करती थी

भागलपुर. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को बिहार में भागलपुर में चुनावी सभा की। उन्होंने कहा कि 70 साल तक आपने लाल बत्ती के रौब को बढ़ते देखा, लेकिन गरीब के घर बत्ती जले, इसकी चिंता नहीं की गई। आपके इस चौकीदार ने लाल बत्ती हटाई और गरीबों के घर सफेद बत्ती जलाई। मोदी की इस सभा में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी और लोजपा प्रमुख रामविलास पासवान भी मौजूद रहे।

‘गांव-गांव तक सड़कें पहुंचाईं’
मोदी ने कहा, “नेताओं को अपने आंगन तक चकाचक सड़क पहुंचाते तो आपने बहुत देखा, बिहार के गांव-गांव तक सड़कें पहुंचाने का बीड़ा इस चौकीदार और उसके साथियों ने उठाया है। बड़े-बड़े फार्म हाउस वाले, महल जैसे बंगले बनाने वाले, नामी-बेनामी संपत्ति खड़े करने वाले भी आपने बहुत देखे। उनसे अलग आपके इस चौकीदार ने आपके चूल्हे-चौके का ध्यान रखा है। 70 साल तक आपने लाल बत्ती के रौब को बढ़ते देखा लेकिन गरीब के घर बत्ती जले, इसकी चिंता नहीं की गई। आपके इस चौकीदार ने लाल बत्ती हटाई और गरीबों के घर सफेद बत्ती जलाई है।”

‘पाक के हुक्मरानों के चेहरे पर अब डर दिखता है’
प्रधानमंत्री ने आगे कहा, “शांति की बात वही कर सकता है जिसकी भुजाओं में दम होता है। 2014 से पहले पाकिस्तान का रवैया क्या था। आतंकवादी भी पाक भेजता था और धमकियां भी पाक ही देता था। कांग्रेस की सरकार सिर्फ कागजी कार्रवाई में ही उलझ कर रह जाती थी। आज पाक की स्थिति देखिए। वहां के हुक्मरान हों या आतंक के आका, डर उनके चेहरे पर दिख रहा है। आज वे दुनिया में जाकर अपने डर का रोना रो रहे हैं। लेकिन दुनिया में आज कोई पाकिस्तान को घास डालने वाला नहीं बचा।”

पीएम बनने के बाद दूसरी बार भागलपुर आए मोदी
प्रधानमंत्री बनने के बाद मोदी दूसरी बार भागलपुर आए। इससे पहले वे 2015 में भागलपुर आए थे। तब राज्य में विधानसभा चुनाव होने वाले थे। पीएम इन वेटिंग रहते 2014 में उन्होंने सैंडिस कंपाउंड में सभा को संबोधित किया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close