देश

रायबरेली में न्यू फरक्का एक्सप्रेस की 9 बोगियां पटरी से उतरी, 7 लोगों की मौत

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के रायबरेली में बड़ा रेल हादसा हुआ है. लखनऊ से करीब 80 किलोमीटर दूर हरचंदपुर स्टेशन के पास मालदा टाउन से नई दिल्ली जा रही है न्यू फरक्का एक्सप्रेस (14003) की नौ बोगियां पटरी से उतर गईं. हादसे में सात लोगों की मौत हुई है जबकि 40 से ज्यादा लोग घायल बताए जा रहे हैं. सभी घायलों को नजदीक के अस्पताल में भर्ती कराया गया है. राहत-बचाव अमला मौके पर मौजूद हैं और रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है. ड्रोन कैमरे के जरिए भी स्थिति का जायजा लिया जा रहा है.

मुआवजे का एलान, अधिकारियों को निर्देश
रेल मंत्री पीयूष गोयल ने मुआवजे का एलान किया है. गोयल ने बताया कि मृतकों के परिजनों को पांच लाख, गंभीर रूप से घायलों को एक लाख और मामूली रूप से घायलों के लिए 50 हजार रुपये का मुआवजा का एलान किया गया है. रेल मंत्री ने हादसे पर दुख जताते हुए कहा कि रायबरेली में हुई रेल दुर्घटना में हताहत और घायलों के परिजनो के साथ गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं. मैं राहत कार्य के लिए रेलवे अधिकारियों से लगातार सम्पर्क में हूं.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी हादसे तुरंत बाद हालात की जानकारी ली और अधिकारियों को निर्देश कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. मुख्यमंत्री ने हादसे पर दुख जताया है और मृतकों के परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की है. सीएम योगी ने मृतकों के परिजनों को दो-दो लाख और गंभीर घायलों को 50-50 हजार के मुआवजे की घोषणा की है.

एटीएस और डॉग स्क्वायड की टीम भी पहुंची
राहत बचाव दल के अलावा एंटी टेररिस्ट स्क्वायड भी मौके पहुंची हैं. दरअसल प्रशासन को दुर्घटना के पीछे आतंकी साजिश की भी जांच करना चाहता है. दरअसल ट्रेन के स्टेशन पर पहुंचने से लगभग पांच मिनट पहले ही ट्रेन पटरी से उतरी. इसलिए प्रशासन इसके हर पहलू की जांच करना चाहता है.

हालांकि इससे पहले खतौली में कलिंग-उत्कल एक्सप्रेस के पटरी से उतरने के मामले में यूपी सरकार ने आतंकी कनेक्शन से इनकार कर दिया था. इस हादसे में करीब 14 डिब्बे पटरी उतरे थे जिसमें 23 लोगों की मौत हो गई थी और 60 से ज्यादा लोग घायल हुए थे.

रेलवे ने हादसे पर क्या कहा?
उत्तर रेलवे के पीआरओ दीपक कुमार के मुताबिक दुर्घटना सुबह छह बज कर पांच मिनट पर हुई. उस वक्त लोगों को तेज झटका महसूस हुआ. किसी की समझ में कुछ आता उससे पहले ही ट्रेन की 9 बोगियां पटरी से उतर गईं. हादसे में सात लोगों की मौत हुई है. दीपक कुमार ने बताया कि ट्रैक को क्लीयर करने में 26 से 36 घंटे का समय लग सकता है.

रेलवे ने जारी किए हेल्प लाइन नंबर
परिवारजों से संपर्क के लिए उत्तर भारत रेलवे ने हेल्प लाइन नंबर भी जारी किए हैं. दीन दयाल उपाध्याय जंक्शन (मुगलसराय) में आपात हेल्पलाइन नंबर BSNL-05412-254145 और पटपा नें बने हेल्प लाइन सेंटर का नंबर 0612-2202290, 0612-2202291 और 0612-2202292 जारी किए गए हैं.

कौन कौन से डिब्बे हुए हादसे का शिकार
न्यू फरक्का एक्सप्रेस (14003) के जो डिब्बे हादसे का शिकार हुए उनमें S-6 NR 07238, S-7 NR 99237, S-8 NR 11248, S-9 NR 12234, S-10 NR 09245, S-11 NR 11244, GS NR 08438, GS NR 12483 और SLR NR 02712 शामिल हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close