देश

जब्‍त होंगी अंडरवर्ल्‍ड डॉन दाउद की संपत्‍तियां, सुप्रीम कोर्ट का फैसला

नई दिल्‍ली (एएनआई)। सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को अपने फैसले में अंडरवर्ल्‍ड डाउन की संपत्‍तियों को जब्‍त करने का आदेश दिया। जस्‍टिस आर के अग्रवाल की अध्‍यक्षता वाली बेंच ने मुंबई में संपत्‍तियों के अटैचमेंट के खिलाफ दाउद के परिवार वालों की याचिका को खारिज कर दिया।

बहन और मां ने डाली थी याचिका
दाऊद की बहन हसीना पारकर और मां अमीना ने याचिका दी थी की मुंबई में संपत्तियों को सीज न किया जाए। जस्टिस आरके अग्रवाल ने दाऊद के परिवार की इस याचिका को खारिज करते हुए सरकार को संपत्तियों को सीज करने की अनुमति दे दी है। दाऊद के परिवार का तर्क था कि उन्हें जब्ती का नोटिस ठीक तरह से नहीं दिया गया इसलिए वे इसके खिलाफ अपील नहीं कर पाए। दाऊद की बहन और मां ने नोटिस का चुनौती देने के लिए समय की मांग की थी। लेकिन जस्टिस आरके अग्रवाल की अध्यक्षता वाली सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने उनकी याचिका खारिज कर दी और सरकार को जब्ती के निर्देश दे दिए।

मुंबई बम धमाकों का भी मास्टरमाइंड
62 वर्षीय माफिया डॉन दाऊद 1993 के मुंबई बम धमाकों का भी मास्टरमाइंड है। मैच फिक्सिंग और धमकी देकर रकम ऐंठने जैसे अपराधों से डॉन बने दाऊद की ना सिर्फ ब्रिटेन बल्कि भारत, यूएई, स्पेन, मोरक्को, टर्की, सायप्रस और आस्ट्रेलिया जैसे देशों में भी अपार अचल संपत्ति है।

पाकिस्‍तान की शरण में है दाउद
भारतीय और अमेरिकी अधिकारी कई बार कह चुके हैं कि दाऊद ने अपना ठिकाना पाकिस्तान के कराची शहर में बना रखा है, जहां से वह अपना गिरोह चलाता है। जबकि पाकिस्तान अपने यहां दाऊद की मौजूदगी से इंकार करता है। भारत के समर्थन में अमेरिका भी कह चुका है कि पाकिस्तान दाऊद को शरण दे रहा है और वह कराची में है। उसके पास पाकिस्तानी पासपोर्ट है।

मुंबई स्‍थित आवास और होटल की हो चुकी नीलामी
अंडरवर्ल्ड डॉन के मुंबई में स्थित घर और होटल की नीलामी पिछले साल के नवंबर माह में हो गई। दाऊद के घर, होटल और गेस्ट हाउस की कुल 11.58 करोड़ रुपये में नीलामी हुई। दाऊद की यह तीनों प्रॉपर्टी SBUT बुरहानी ट्रस्ट ने खरीदा। इसमें अफरोज होटल चार करोड़ में नीलाम हुआ, शबनम गेस्ट हाउस और डांबरवाला बिल्डिंग के भी पांच कमरे नीलाम हुए।

जब्‍त की गयी थी 42 हजार करोड़ रुपये की संपत्‍ति
सितंबर महीने में दाऊद की ब्रिटेन में स्थित 42 हजार करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की गई थी। इन संपत्तियों में होटल और घर शामिल थे। उससे पहले साल 2015 में दक्षिण मुंबई के भिंडी बाजार स्थित होटल रोनक अफरोज की नीलामी रखी गई थी। पत्रकार एस बालाकृष्णन ने इसके लिए सबसे ज्यादा चार करोड़ 28 लाख रुपये की बोली लगाई थी। उन्होंने 30 लाख रुपये जमा करने के बाद बोली लगाई थी। लेकिन, बाद में वे 3.98 करोड़ रुपये नहीं जुटा सके, जिससे नीलामी रद्द हो गई थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close