खेल

स्पाॅट फिक्सिंग में फंसे श्रीसंत पर 5 फरवरी को होगा फैसला

 

नई दिल्लीः स्पाॅट फिक्सिंग मामले में फंसे पूर्व क्रिकेटर एस श्रीसंत को फिर कठघरे में खड़ा होना पड़ेगा। सर्वोच्च न्यायालय ने फैसला किया है कि वह श्रीसंत के स्पाॅट फिक्सिंग मामले पर पांच फरवरी को सुनवाई करेंगे।

श्रीसंत ने केरल उच्च न्यायालय के उस फैसले के खिलाफ याचिका दायर की थी जिसमें बीसीसीआई द्वारा 2013 में आईपीएल में स्पॉट फिक्सिंग का दोषी पाए जाने के बाद आजीवन प्रतिबंध लगा दिया था। मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली एक पीठ के सामने इस मामले के आने के बाद उन्होंने इसे रोस्टर के अनुसार एक उपयुक्त पीठ के समक्ष सुनवाई के लिए सूचीबद्ध करने  का निर्देश दिया।

इस पीठ ने कहा, ‘‘ इस मामले को पांच फरवरी को रोस्टर के मुताबिक उपयुक्त पीठ के समक्ष रखा जाए।’’ इससे पहले उच्च न्यायालय की एक खंडपीठ ने 34 वर्षीय इस तेज गेंदबाज पर एकल पीठ के उस फैसले को पलट दिया था जिसमें बीसीसीआई द्वारा लगाए गए आजीवन प्रतिबंध को निरस्त किया गया था।

क्या है मामला ?
2013 में आईपीएल के अंतिम चरण में स्पॉट फिक्सिंग की खबरें सामने आ गईं। 16 मई 2013 को श्रीसंत और राजस्थान रॉयल्स के उनके दो अन्य साथी खिलाड़ी अजित चंदीला और अंकित चव्हाण गिरफ्तार हुए थे। आईपीएल-6 में स्पॉट फिक्सिंग के आरोप दिल्ली पुलिस ने इन तीनों को मुंबई में गिरफ्तार किया था।

 

advertisement advertisement advertisement advertisement advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close