छत्तीसगढ़

नक्सल आपरेशंस के लिए साल 2017 रहा यादगार :

 300 से ज्यादा नक्सली ढेर, 1458 नक्सली गिरफ्तार, 102 जवान भी हुए शहीद

रायगढ़ टॉप न्यूज 02 जनवरी/रायपुर। नक्सल उन्नमूलन को लेकर साल 2017 बेहद खास रहा। 2017 में ना सिर्फ पुलिस की पहुंच नक्सलियों के गढ़ तक हुई, बल्कि 300 से ज्यादा नक्सलियों को मार गिराया गया। गृह सचिव वीवीआर सुब्रह्मण्यम, डीजीपी एएन उपाध्याय, नक्सल डीजी डीएम अवस्थी, इंटेलिजेंस प्रमुख अशोेक जुनेजा, रायपुर आईजी प्रदीप गुप्ता की ज्वाइंट प्रेस कांफ्रेंस में ना सिर्फ आज छत्तीसगढ़ पुलिस ने साल 2017 की अपनी उपलब्धियां गिनायी, बल्कि गुजरे साल में छत्तीसगढ़ पुलिस की कामयाबी के आंकड़े भी बताये।

नक्सल आपरेशन के लिए साल 2017 को इसलिए भी याद किया जायेगा, क्योंकि ऑपरेशन प्रहार के दौरान जवान तोड़ामरका जैसे नक्सलियों के गढ़ तक पहुंचे और आपरेशन को अंजाम दिया। गोलाराम और भोपालपट्टनम, नगरकोलम, जैसी कई ऐसी जगह थी, जहां जवानों ने पहली बार अपनी मौजूदगी दिखायी।

नक्सल आपरेशंस की कामयाबी बताते हुए डीजी डीएम अवस्थी ने कहा कि साल 2017 में 300 से ज्यादा नक्सलियों को आपरेशंस के दौरान मार गिराया गया। पिछले 2 सालों में 1476 नक्सल आपरेशंस चलाये गये हैं…और 1994 नक्सलियों को गिरफ्तार किया गया।1458 नक्सलियों में मारे गए, गिरफ्तार और सरेंडर नक्सली शामिल हैं। इन पर कुल 4 करोड़ का इनाम था, वहीं 1280 किलो की IED 263 स्थानों से बरामद की गई। 100 हेंड ग्रेनेड और 2319 डेटोनेटर भी बरामद किये गये।

हालांकि इस दौरान 102 जवान शहीद भी हुए हैं और जवानों के 43 हथियार लूटे। साल 2017 में 1017 नक्सली गिरफ्तार हुए, जिनमें 79 नक्सलियों पर इनामा था। खास बात ये है कि इनामी नक्सलियों पर 1 करोड़ 41 लाख का इनाम था।

खास बात ये रही कि आपरेशंस के साथ-साथ डेवलपमेंट के भी काफी काम हुुुए। बस्तर में पुलिस की देखरेख में 2 साल में 700 किलोमीटर की रोड बनी, जबकि 1300 किलोमीटर रोड बनने का काम जारी है। वहीं 75 नए थाने भी खोले गये।

गृह सचिव वीवीआर सुब्रमण्यम ने दावा किया कि 2022 तक नक्सलवाद पूरी तरह से खत्म कर दिया जायेगा। अब सिर्फ बीजापुर और सुकमा में नक्सलियो से मौजूदगी है। केंद्र और राज्य सरकार के 70 से 75 हज़ार जवान नक्सलियों से लड़ रहे हैं। 4 नई बटालियन में 5 हज़ार जवान मार्च तक तैनात किए जाएंगे। बस्तर में 60 से 65 फीसदी नक्सली का सफाया हो गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close