छत्तीसगढ़

एक ही परिवार के चार लोगों की मौत का दर्दनाक नजारा

चुनाव नतीजे देखना छोड़, लोग दौड़ पड़े अशोक के घर की ओर

रायगढ़ टॉप न्यूज 18 दिसंबर/भिलाई. कैंप 1, संग्राम चौक में सोमवार की सुबह चार लोगों की दर्दनाक मौत से खलबली मच गई। अशोक प्रजापति नाम का युवक अपनी पत्नी और दो मासूम बच्चों को मौत के घाट उतारकर खुद फंदे पर लटक गया। घटना की सूचना मिलते ही सीएसपी अजीत यादव और छावनी टीआई राजेश साहू मौके पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि प्रथम दृष्टिया सुसाइडल नोट मिला है। जिसमें 35 वर्षीय युवक ने साथ जीने और साथ मरने का जिक्र किया है।

छलक पड़े आंसू
चार लोगों की दर्दनाक मौत से कैंप१ में खलबली मच गई। लोग गुजरात और हिमांचल प्रदेश के चुनाव नतीजे टीवी पर देखना छोड़ अशोक की घर की दौड़ पड़े। सामूहिक मौत का नजारा देखने मृतक के घर के बाहर लोगों का जमावड़ा लगा रहा। मां के पास मरे हुए बच्चों को देख लोगों की आंसू आंख से छलक पड़े।

मां के साथ मौत की आगोश में सो गए बच्चे
छावनी पुलिस ने बताया कि आत्महत्या करने वाला युवक का शव फंदे पर लटका हुआ घर के सामने कमरे में मिला है। वहीं पत्नी गेश्वरी और ५ साल की बेटी रागिनी, २ साल के बेटे सागर का शव बेडरूम के बिस्तर पर मिला है। दोनों बच्चे मां के आजू-बाजू मौत की आगोश में सोए हुए मिले हैं। फिलहाल पुलिस इस पूरे मामले की जांच में जुट गई है।

बनाया नाइलोन की रस्सी का फंदा
प्रजापति परिवार के मुखिया अशोक ने पत्नी और बच्चों को मारने के बाद नाइलोन की रस्सी का फंदा बनाया। डायरी की एक पेज पर सुसाइडल नोट लिखकर खुद की जीवन लीला समाप्त कर ली। पुलिस ने बताया कि मृतक युवक के शव के पास रखे बेड में एक मोबाइल और सुसाइडल नोट लिखा हुआ पेज मिला है। वहीं मृतक की पत्नी के मांग में नव विवाहिता की तरह बंदन का सिंदूर भरा हुआ है।

पीएम के लिए भेजा जाएगा शव
मौत को गले लगाने वाले प्रजापति परिवार के चार लोगों के शव को पुलिस ने कब्जे में ले लिया है। पंचनामा के बाद आस-पास के लोगों से पुलिस पूछताछ कर रही है। पड़ोसियों ने बताया कि देर रात तक घर से कोई आवाज तो नहीं आया। सुबह-सुबह पड़ोसी किसी काम से उनके घर का गई तब आत्महत्या की घटना सामने आई।

advertisement advertisement advertisement advertisement advertisement

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close