छत्तीसगढ़

बलरामपुर जिले में हाथी ने महिला को कुचला

रायगढ़ टॉप न्यूज 28 नवंबर। अंबिकापुर: बलरामपुर जिले के कुसमी व चांदो वन परिक्षेत्र के सीमावर्ती इलाकों में पिछले कई दिनों से स्वच्छंद विचरण कर रहे 12 हाथियों के दल ने सोमवार की रात ग्राम पंचायत चटनिया में महिला को कुचलकर मार डाला.

घटना के वक्त महिला का पति कुछ दूरी पर मौजूद था. हाथियों के चले जाने के बाद जब वह मौके पर पहुंचा तो उसकी पत्नी की सांसे चल रही थी, लेकिन थोड़ी देर बाद ही उसने दम तोड़ दिया. 12 हाथियों का दल पिछले कई दिनों से कुसमी व चांदो वन परिक्षेत्र के गांवों में स्वच्छंद विचरण कर रहा है.

ग्राम जरियो निवासी ठिबली देवी (55) व उसका पति दिकन बिझिया (60) पिछले डेढ़ दशक से चटनिया निवासी अमरनाथ पिता रामदेव के यहां चरवाहे का काम करते थे. दंपती चटनिया में ही घर बना लिया है. सोमवार रात लगभग नौ बजे ठिबली देवी ने पति को भोजन कराया और घर से दूर मवेशियों को बांधने के स्थल बथान के लिए भेज दिया.

थोड़ी देर बाद वह घर में भोजन कर रही थी उसी समय हाथियों के दल ने घर को घेर लिया. हाथियों की चिंघाड़ से भयभीत महिला धीरे से घर से निकल भागने का प्रयास करने लगी लेकिन बाहर निकलते ही हाथियों ने उसे घेर लिया और पैरों से कुचल दिया.

वहीं हाथियों द्वारा पत्नी पर हमले को वह कुछ दूरी से देखता रहा लेकिन वह असहाय खड़ा रहा. हाथियों ने घर क्षतिग्रस्त करने के साथ ही अनाज भी खाया. जब हाथियों का दल वहां से जंगल की ओर लौट गए तब उसका पति दिकन बिझिया मौके पर पहुंचा.

उसकी पत्नी गंभीर अवस्था में पड़ी हुई थी. अत्यधिक ठंड के कारण पति ने पत्नी की सेकाई करने के लिए आग भी जलाई लेकिन थोड़ी देर बाद उसने दम तोड़ दिया. सुबह वन परिक्षेत्राकिारी शिवानंद मिश्रा, चांदो थाना प्रभारी उमेश बघेल के साथ पुलिस व वन विभाग का अमला मौके पर पहुंचा. शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया.

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
Close